सुनामी एक्सप्रेस गोपालगंज ।
ब्यूरो प्रमुख प्रदीप शर्मा गोपालगंज।

सर झुके बस उनकी शहादत में जो शहीद हुए हमारी हिफाजत में।

गोपालगंज,जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी, गुरुवार को हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए। इन शहीदों के याद में मिडिया हाउस प्रबंधक नौशाद अली और शिक्षक अनीश रंजन की ओर से शुक्रवार को जंगलिया के कोचिंग संस्थानों में, पुलवामा के आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। फिर दो मिनट का मौन रखा गया

इस दौरान मिडिया हाउस प्रबंधक नौशाद अली और शिक्षक अनीश रंजन बोले

 


आतंकी हमले को कायराना हरकत करार दिया है। इसके साथ ही जुमे की नमाज के बाद शहीद सैनिकों की मग्फिरत की दुआ की गई डॉ. सुनील कुमार रंजन व डॉ. नौशाद अली तथा मिडिया हाउस प्रबंधक नौशाद अली, जंगलिया निवासी मुजफ्फर इमाम, मस्तक अहमद, नूर बसर, व तबरेज आलम नेसंयुक्त रूप से इस हमले की निंदा की। वहीं शिक्षक अनीश कुमार रंजन ने बताया कि 14 फरवरी, 2019 का वो काला दिन जब अपने जवानों की शहादत पर पूरे देश की आंखों में आंसू थे। दोपहर के 3:30 बजे रहे थे, जब आतंकियों ने वीर जवानों के काफिले पर हमला कर दिया था। इसमें देश के 40 जवानों ने अपनी शहादत दी थी। एक साल हो गया है इस दुखद घटना को, लेकिन आज भी दिलों में पुलवामा हमला का दर्द मौजूद है। वहीं, आज इन जवानों को श्रद्धांजलि भी दी जा रही है।केन्द्र सरकार को इस हमले का करारा जवाब देना चाहिए। यह देश की एकता तोडऩे का प्रयास है, लेकिन आतंकी इस मकसद में कामयाब नहीं हो सकेंगे। सभी देशवासी एकसाथ आतंकवादियों के खिलाफ खड़े हैं। वहीं मिडिया हाउस प्रबंधक नौशाद अली ने बताया कि मस्जिदों में जुमे की नमाज के बाद शहीद सैनिकों के लिए दुआ-ए-मग्फिरत की गई। जबकि शहीदों के परिजनों के लिए अल्लाह से सब्र देने की दुआ की गई।

ब्यूरो प्रमुख प्रदीप शर्मा गोपालगंज

LEAVE A REPLY