सुनामी एक्सप्रेस गोपालगंज

इस वक्त की बड़ी खबर जिले के विजयीपुर थाना क्षेत्र के तेतरिया गांव से प्रकाश में आ रही है जहां रविवार दोपहर बड़े भाई के साथ खेलने के दौरान गायब हुए तीन साल के मासूम बच्चे की गर्दन दबा कर हत्या कर दी गई है,

प्राप्त जानकारी के मुताबिक बताया जाता है कि रविवार की रोज समय 1:00 बजे के आसपास अपने बड़े भाई अंश कुमार के साथ 3 वर्षीय आर्यन कुमार दरवाजे पर खेल रहा था कि इसी बीच वह वहां से गायब हो गया
मृतक परिवार के लोग रविवार 2:00 बजे के आसपास से इस बच्चे की तलाश शुरू कर दी लेकिन इस बच्चे का कहीं पता नहीं चला मृत बच्चा स्थानीय गांव निवासी जगदीश यादव का 3 वर्षीय पुत्र आर्यन कुमार बताया जा रहा है घटना के बाद से पूरे गांव में अफरातफरी का माहौल पैदा हो गया है वहीं शव बारामती के संबंध में बताया जाता है कि अगले सुबह 5:00 बजे के आसपास बगल के पाटीदार वीरेंद्र यादव की घर से एक लड़की गाय को चारा डालने के लिए जैसे ही गौशाला में पहुंची है की वहां पर लावारिस हालात में आर्यन कुमार को देखा उसके बाद से वह जोर जोर से चिल्लाने लगी आवाज सुन सारे परिवार के लोग इकट्ठा हो गए वारदात की खबर को क्षेत्र में फैलने में ज्यादा समय नहीं लगा खबर आग की तरह चारों तरफ फैल गया ग्रामीण और राहगीरों का ताता लग गया वही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल गोपालगंज दिया है विजयीपुर थाने के एएसआई सुरेश सिंह से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि घटना की खबर सही है हत्या किस कारण की गई है पुलिस मामले की छानबीन कर रही है पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हत्या के कारणों का खुलासा हो पाएगा बरहाल इस मामले में जो भी आरोपित होंगे उन्हें बख्शा नहीं जाएगा।

मासूम की निर्मम हत्या से आंसुओं के सैलाब में डूब गया गांव

बता दें कि जैसे ही आर्यन कुमार का शव गौशाला से बाहर निकाला गया वैसे ही बच्चे की मां रीता देवी और मौसी सरिता देवी ने बच्चे को गले लगाकर अपना धैर्य खो दिया और बार-बार बच्चे का नाम लेकर वह बेहोश हो जा रही थी वहीं घटना से आहत ग्रामीण भी बच्चे की निर्मम हत्या को देख अपने आंसू नहीं रोक पाए, पीड़ित परिवार के बारे में बताया जाता है कि उसका किसी से कोई दुश्मनी नहीं है फिर तीन साल के मासूम की निर्मम हत्या अपने आप में एक सवाल खड़ा कर जाता है जिसने दुनिया को नहीं देखा आखिर उस मासूम की हत्या किस कारण की गई इसका जवाब मिलना अभी बाकी है

ब्यूरो प्रमुख प्रदीप शर्मा गोपालगंज।

LEAVE A REPLY