लार(देवरिया) नगर पंचायत लार में ई-टेंडरिंग के माध्यम से एक निविदा निकली थी। जिसमें कार्य संख्या 10 चौदहवाँ वित्त से वही कार्य राज्य वित्त से कार्य संख्या 4 पर निकला था। एक ही कार्य दोनों में राज्य वित्त और चौदहवाँ में निकला है। एक ही कार्य दो बार निकल चुका है। ये कार्य चौदहवाँ और राज्य वित्त दोनों से होना था। कार्य एक ही है, लेकिन कार्य संख्या अलग-अलग दिखाया गया है।
वहीं घारी वार्ड में शिवमंदिर से कृष्णमोहन सिंह के घर तक इंटरलॉकिंग कार्य का निर्माण कार्य ।
कार्य संख्या 9 का पूर्व में भुगतान भी हो चूका है।ये निविदा अधिशासी अधिकारी और नगर अध्यक्ष द्वारा डबल निकाली गयी थी । जब नगर अध्यक्ष को डबल की जानकारी हुई तो उनके द्वारा तुरंत संपूर्ण कार्य को निरस्त कर दिया गया।जबकि अधिशासी अधिकारी राजन नाथ तिवारी द्वारा टेंडर को निरस्त करने में हिलाहवाली किया जा रहा है। एक ही टेंडर में 3 कार्यो में गलती पाए जाने पर संपूर्ण निविदा गलत मानी जाती है । जिसमे संपूर्ण कार्य को अधिशासी अधिकारी और नगर पंचायत अध्यक्ष द्वारा निरस्त कर देनी चाहिए। लेकिन अभी तक निरस्त नही हुई। मामला अधर में लटका हुआ है ।

LEAVE A REPLY