सुनामी एक्सप्रेस टीम पटना

बिहार बोर्ड एग्जाम के दौरान समान काम समान वेतन को लेकर सरकार से अपनी मांगों पर अड़े नियोजित शिक्षकों के ऊपर बिहार सरकार ने शक्ति से निपटने के लिए आज पत्र जारी कर दिया है इस मामले में बिहार के सभी जिलों के डीएम को शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने पत्र भेजकर बोर्ड एग्जाम के दौरान प्रदर्शन में शामिल शिक्षकों की पहचान कर कार्यवाही करने को लेकर पहचान का जिम्मा DEO और DPO को सौंप दिया है वही मुख्य सचिव की ओर से जारी पत्र के मुताबिक नियोजित शिक्षकों के ऊपर मनमानी करने को लेकर कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है शिक्षा विभाग कीर ओर से जारी निर्देश के मुताबिक बिहार में नियोजित शिक्षकों की हड़ताल में शामिल वैसे टीचरों की पहचान कर उन्हें बर्खास्त किया जाये. जिनकी ड्यूटी मैट्रिक परीक्षा में लगी हुई है. जबरदस्ती स्कूल बंद करने वालों टीचरों पर कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं. वैसे टीचरों को बर्खास्त कर उनकी जगह नई नियुक्ति करने का आदेश भी जारी किया गया है शिक्षा विभाग की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक शिक्षकों के खिलाफ एफआईआर कर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है

वैसे टीचर जो ड्यूटी पर जाना चाहते हैं लेकिन उनके साथियों द्वारा उन्हें रोका जा रहा है. वैसे टीचरों को चिन्हित कर उनके ऊपर कार्रवाई की जाये एग्जाम में जिनकी ड्यूटी लगी हुई है हड़ताल के समर्थक शिक्षक वीक्षण और मूल्यांकन कार्य से रोकते हैं तो उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया जाए वहीं शिक्षा विभाग के मुताबिक और जल रवैया अपनाए हुए हैं नियोजित शिक्षकों के ऊपर कानूनी कार्रवाई सहित सेवा से बर्खास्त करने की अधिसूचना भी शिक्षा विभाग ने जारी कर दी है इस कड़ी में बर्खास्त शिक्षकों के जगह सूचीबद्ध करते हुए नए बहाली की प्रक्रिया को भी पत्र द्वारा निर्देशित किया गया है।

Kumar pradeep.

LEAVE A REPLY