सुनामी एक्सप्रेस गोपालगंज।
ब्यूरो चीफ प्रदीप शर्मा।गोपालगंज।

इस वक्त की बड़ी खबर जिले के भोरे थाना क्षेत्र के रकवा पंचायत के तिवारी रेडवरिया गांव के पास स्थित सरकारी विधालय के समीप से प्रकाश में आया है जहाँ हत्या कर पहचान छुपाने के लिए एक शव को जलाया गए है लेकिन हैरत की बात यह है कि इसकी खबर अगल-बगल के लोगों को भी नहीं है, सड़क से घटनास्थल की दूरी लगभग 700 मीटर दूर है और चारों तरफ से जंगलो से घिरा यह खांड जहाँ दिन में भी लोग जाने से कतराते है
ऐसी जगह पर इस शव को अर्द्धजली अवस्था में जलाया गए है,अर्द्धजली शव मिलने के बाद से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है ग्रामीणों में इसको लेकर कई तरह की बातें हो रही है लेकिन इसमें एक और मोड भी सामने आ रहा है रकवा पंचायत के मुखिया उमेश बैठा ने बताया कि तकरीबन संध्या 5:00 बजे के आसपास वह घर से बाजार करने के लिए भोरे गए हुए थे इसी बीच घर के समीप पहुंचे दो लोगों ने मुखिया का पता पूछा वही मोड़ पर उपस्थित लोगों ने बताया कि मुखिया भोरे की तरफ गए हुए हैं ग्रामीणों ने दोनों व्यक्तियों से पूछा कि आप मुखिया का पता क्यों खोज रहे हैं क्या बात है तो उन्होंने बताया कि हमारी पुत्री की हत्या कर जला दिया गया है
इतनी बात कह वह दोनों बाइक पर बैठ वहां से चल दिए ग्रामीण अभी यह पूछना ही चाह रहे थे कि आप लोगों का घर कहां है और शादी कहां हुई है तब तक वह वहां से तेजी से निकल गए वहीं मुखिया के पहुंचने के बाद मोड़ पर स्थित दुकानदार और ग्रामीणों ने मुखिया को सारी बात बताई घटना की सूचना मिलने के बाद उन्होंने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी वही इस मामले में भोरे थाना अध्यक्ष जंगो राम से मीडिया कर्मी ने बात की तो उन्होंने बताया कि मामला प्रकाश में आया है छानबीन जारी है पीड़ित परिवार की तलाश की जा रही है इस मामले में किसी भी प्रकार का आवेदन थाने पर अबतक़ नहीं आया है,

LEAVE A REPLY