गुठनी (सिवान) हड़ताल का 14वां दिन रहा। बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के द्वारा पूर्व निर्धारित कार्यक्रम विधायक आवास का घेराव के लिए हड़ताली शिक्षक बीआरसी के कैंपस में एकत्रित हुए और यह बात दरौली विधानसभा के भाकपा माले के विधायक सत्यदेव राम को बताई गई। उन्होंने कहा कि मैं खुद आपके बीच आ रहा हूं ।विधायक जी अपने नियत समय से धरना स्थल पर पहुंचे और हड़ताली शिक्षकों से ज्ञापन लिएम इस दौरान उन्होंने कहा की हम आपके साथ हैं और कदम से कदम मिलाकर चलेंगे, इस हड़ताल के कारण पूरे बिहार राज्य की शिक्षा व्यवस्था चरमरा गई है, यह सरकार तानाशाही रवैया अपनाई हुई है। आप लोगों के लिए हम पूरा विपक्ष एकजुट होकर मांग उठाएं हैं, अगर बात सरकार नहीं मानती है तो हम सभी विपक्षी मिलकर विधानसभा को नहीं चलने देंगे ।जहां जनता या किसी को दबाने कार्य होगा हम वहीं खड़े मिलेंगे ।हमारे साथ ही 120 विधायक हैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम लड़ कर आपके मंजिल तक आप सभी को पहुंचाएंगे । यह लड़ाई अब रोटी की हो गई है ।इसलिए हम आप सब के लिए लड़ेंगे और आपका जायज हक दिलवाकर ही दम लेंगे। धरना स्थल को संबोधित करते हुए राज्य कार्य समिति के सदस्य राजकिशोर राय ने कहा कि एक बार विधायक हो जाने पर पेंशन भत्ता याद सब कुछ मिलने लगता है। जबकि अपनी पूरी जीवन विभाग को देने के बाद भी पेंशन नहीं मिलेगा। जबकि सरकार को चाहिए सेवाशर्त, पेंसन, राज्य कर्मचारी, अनुकंपा इत्यादि पर सरकार को हम सब सोचने पर और करने पर विवश कर देंगे।अब सरकार की हिटलर शाही अब नहीं चलेगी। कार्यक्रम में मुख्य रूप से नवमी लाल (विधायक प्रतिनिधि), हृषिकेश यादव, विनय सिंह, नंदलाल सिंह (बीआरपी), अरविंद पटेल ,रमेश कुमार, राजेंद्र भक्त, निर्भय यादव, अरुण कुमार, श्रीराम यादव, हरे राम प्रसाद ,रविंद्र कुमार राम, महंत राम, दुर्गेश गुप्ता, भगवान जी शर्मा ,मधुकर जी, धर्मेंद्र प्रसाद मांझी, जयप्रकाश, प्रेमचंद, विवेक मिश्र, विक्की यादव, गणेश चतुर्वेदी, गणेश चौधरी, गिरीवरधर पांडे, लाल बाबू शर्मा सहित अन्य शिक्षक उपस्थित थे।

रिपोर्टर पप्पू बाबा सुनामी एक्सप्रेस

LEAVE A REPLY