लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित प्रदेश के अन्य नेताओं ने पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ राजनेता जसवंत सिंह के रविवार को निधन पर शोक व्यक्त किया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह के निधन का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें व परिजनों को इस आघात को सहने की क्षमता प्रदान करें।

उप्र विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा कि भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के निधन के समाचार से स्तब्ध हूं। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान दे एवं परिवारजनों को इस दु:ख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री व लोकप्रिय नेता आदरणीय जसवंत सिंह के निधन का दु:खद समाचार प्राप्त हुआ। प्रभु श्रीराम दिवंगत आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दें एवं परिवारजनों व समर्थकों को इस गहन दु:ख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि जसवन्त सिंह के निधन के समाचार से मन दुखी है। वे देश के एक सच्चे सेवक थे एवं अलग अलग भूमिकाओं में उन्होंने मातृभूमि के उत्कर्ष के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया। ईश्वर उनकी आत्मा को अपने श्रीचरणों में स्थान दे।

बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने कहा कि भाजपा के कद्दावर नेता रहे व पूर्व रक्षा, वित्त व विदेश मंत्री आदि उच्च पदों को काफी लम्बे समय तक सुशोभित करने वाले तथा नौ बार सांसद रहे जसवंत सिंह के निधन की खबर अति-दुःखद। उनके परिवार व समर्थकों के प्रति गहरी संवेदना।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह के निधन का समाचार दु:खद है। ईश्वर दिवंगत आत्मा को शांति एवं परिजनों को दुःख सहने का संबल प्रदान करें।

पूर्व केंद्रीय मंत्री जसवंत सिंह का आज सुबह 6:55 पर निधन हो गया। वे 82 साल के थे। उन्हें सेना के रिसर्च ऐंड रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके विभिन्न अंगों ने ठीक से काम करना बंद कर दिया था, जिनका इलाज चल रहा था। आज सुबह उन्हें दिल का दौरा भी पड़ा।’ काफी कोशिशों के बावजूद उन्हें बचाया नहीं जा सका।

सुनामी टाईम्स देवरिया

LEAVE A REPLY