लखनऊ। आसमान में बादल,कुछ जगहों पर हुई बारिश ने धान के किसानों के लिए सिरदर्द बना दिया है।मौसम विभाग के अनुसार पूरे प्रदेश में अभी बुधवार व गुरुवार को ऐसे ही मौसम बने रहने और बुधवार शाम तक कई जगहों पर हल्की बारिश होने की संभावना है। हालांकि खरीफ की पक चुकी फसलों के लिए यह मौसम नुकसानदायक है। लेकिन,रबी की अधिकांश फसलों के लिए यह लाभदायक भी है। औषधीय पौधों के लिए जहां बहुत ही लाभकारी है,वहीं 30 दिन पूर्व से बुआई हो चुकी मटर, चना आदि के लिए भी लाभकारी है।
लखनऊ के मौसम वैज्ञानिक डॉ.जेपी गुप्ता का कहना है कि यह मध्य प्रदेश में निम्न वायुदाब बनने के कारण मौसम खराब हुआ है। अभी बुधवार को दिन भर तथा गुरुवार को इसके खराब रहने की संभावना है।बुधवार को शाम तक कई जगहों पर हल्की बारिश हो सकती है।गुरुवार के बाद मौसम साफ हो जाएगा।
वहीं सीमैप लखनऊ के कृषि वैज्ञानिक डॉ. राजेश वर्मा का कहना है कि यह बारिश औषधीय पौधों जैसे लेमन घास, खस आदि के लिए लाभकारी है।यदि ओले नहीं गिरे हैं तो रबी की अधिकांश फसलों के लिए यह नुकसान नहीं करेगा। चना,मटर आदि की बुआई तीस दिन पहले हो गयी है तो उसके लिए भी यह फायदेमंंद ही होगा। हालांकि गेहूं आदि रबी की जिस फसल की बुआई अभी नहीं हुई है, वे फसलें पिछड़ जाएंगी। इसका यही नुकसान होगा।

सुनामी टाईम्स देवरिया

LEAVE A REPLY