जम्मू-कश्मीर के जिला विकास परिषद (DDC) चुनाव में अबतक गुपकार गुट कुल 112 सीटों पर आगे है. वहीं, बीजेपी कुल 70 सीटों पर लीड लिए हुए है. अब तक आने वाले नतीजों को लेकर नेशनल कॉन्फ्रेंस उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने कहा कि ये चुनाव नतीजे उन लोगों को जवाब हैं जो कहते थे कि हम कश्मीर से मिट गए हैं. उन्होंने आगे कहा कि ये नतीजे उनके लिए सबक हैं जो आरोप लगाते थे कि हम परिवार और खानदान की पार्टी हैं.इसके साथ ही उमर अब्दुल्ला ने इन नतीजों को बीजेपी और उसकी “प्रॉक्सी राजनीतिक पार्टी” के लिए आंख खोलने वाला बताया और कहा कि लोगों ने राज्य के विशेष दर्जे को समाप्त करने के फैसले को खारिज कर दिया है.उमर ने आगे कहा कि नतीजे और रुझान गुपकर (गठबंधन) के लिए एक “महत्वपूर्ण उपलब्धि ” है और वे उस ‘दृष्टिकोण’ का समर्थन करते हैं कि पूर्ववर्ती राज्य जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा हटाने तथा इसे केंद्रशासित प्रदेश में बदलने की को लोगों ने स्वीकार नहीं किया है.
उमर ने कहा कि अब अगर बीजेपी और उसकी ‘प्रॉक्सी’ राजनीतिक पार्टी लोकतंत्र में विश्वास करती है, जैसा कि उन्होंने कहा है, तो उन्हें तुरंत अपने फैसला वापस लेना चाहिए और इस क्षेत्र के लोगों के फैसले का सम्मान करना चाहिए.एनसी नेता ने कहा कि बीजेपी ने डीडीसी चुनावों में प्रचार के लिए कई केंद्रीय मंत्रियों और नेताओं को यहां भेजा था. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने इन चुनावों को 2019 की अपनी नीति के लिए जनमत संग्रह में बदल दिया. मुझे उम्मीद है कि वे लोगों की इच्छा को समझ गए होंगे.
 केंद्र ने पिछले साल पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर राज्य के विशेष दर्जे को समाप्त कर दिया था और इसे जम्मू कश्मीर और लद्दाख के रूप में केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था.बता दें कि खबर लिखे जाने तक गुपकर के उम्मीदवार 112 सीटों पर आगे चल रही है और अब तक 30 सीटों पर जीत चुके हैं जबकि बीजेपी 70 सीटों पर आगे चल रही है और उसने अब तक 52 सीटें जीती हैं. कांग्रेस 19 सीटें जीत चुकी है और 9 सीटों पर बढ़त बनाए है. अपनी पार्टी 7 सीटें जीत चुकी है और 5 पर आगे है. अगर निर्दलीय उम्मीदवारों की बात करें तो वे 56 सीटों पर आगे हैं. 

LEAVE A REPLY