माँ सीता की धरती पे मानवता हुई शर्मसार महिला के शव को नोचता रहा आवारा कुत्ता मूकदर्शक बने रहे अधिकारी सीतामढ़ी जिला के रीगा स्टेशन से कुछ ही दूरी पर स्थित रेलवे गुमटी के समीप शुक्रवार को एक बार फिर पुलिस की संवेदनहीनता की तस्वीर देखने को मिली।संवेदनहीनता पर खेद व्यक्त करने के बजाए पुलिस वाले इस पर पर्दा डालने की नीयत से मीडिया कर्मियों से ही उलझ गए। तब तक मीडिया के लोग पुलिस की लापरवाही की तस्वीर अपने कमरे व मोबाइल में कैद कर चुके थे।

दरअसल, करीब चार बजे सुबह में एक महिला मालगाड़ी ( ट्रेन) से कट गई। वह खुद ट्रेन से कट कर अपनी जान दे दी या गलती से ट्रेन के चपेट के आ गई, यह तो जांच के बाद ही खुलासा होगा, लेकिन ट्रेन से कटने के बाद शव का जो हाल हुआ, उसकी कोई कल्पना भी नहीं कर सकता है। घटना के करीब चार घंटे बाद जीआरपी मौके पर पहुंची। उस दौरान कुत्ते शव को नोच कर खा रहे थे। हद तो यह कि यह तस्वीर देखने के बावजूद पुलिस के मूकदर्शक बनी रही। यानी शव को कुत्ते का निवाला बनने से बचाने के बजाए हाथ पर हाथ रख खड़ी रही। पुलिस हरकत में तब आयी, जब मीडिया के लोगों ने शव को नोच कर खाते कुत्ते की तस्वीर ली। यह देख पुलिस कर्मी मीडिया से ही उलझ गए और तस्वीर लेने पर आपत्ति जताने लगे। बाद में मामला शांत हुआ। मीडियाकर्मी तस्वीर लेकर लौट गए और पुलिस वाले शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिए। पुलिस के बिलंब से पहुंचने को लेकर लोग उसकी तीखी आलोचना कर रहे है।

रंजीत कुमार।

LEAVE A REPLY