विजय शुकुळा।

पूर्व केन्द्रीय राज्यमंत्री और पाटलीपुत्र के भाजपा सांसद राम कृपाल यादव ने आज लोकसभा में शून्य काल कल बिहार विधानसभा में विपक्ष द्वारा लोकतंत्र की हत्या करने वाला कृत्य का मामला उठाया। सासंद ने कहा  मेरे सार्वजनिक जीवन के 45 का हो गया है। लम्बे काल से मै संसदीय जीवन मे हूँ । मैंने आज तक किसी भी सदन में विपक्ष द्वारा ऐसा हरकत करते नहीं देखा है। सदन में विभिन्न पार्टी के लोग अपनी बात को रखते है। लोकतंत्र मे सबको अधिकार है बिल का विरोध करने का। बिल मे कुछ है भी नहीं, केवल नाम का परिवर्तन किया जा रहा है । विपक्ष ने जिस तरह से हंगामा खड़ा करने का काम किया है उससे लोकतंत्र शर्मसार हुआ है। स्पीकर  को 3 घंटे तक बंदी बना कर रखा गया । आसन पर  हमला किया गया। विरोध करने का ये तरीका सही नहीं है। लोकतंत्र में सदन में किसी भी विषय पर वाद- विवाद होती है। चर्चा होती है नकि सदन में हमला होता है।
इस सदन के माध्यम से बिहार विधानसभा के स्पीकर से मांग करता हूं कि कड़ी कार्रवाई की जाय ताकि भविष्य में इसतरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो।

 

LEAVE A REPLY