विजय शुकुळा।

सुपौल पुलिस ने 4 अप्रैल को पिपरा थाना क्षेत्र में घटित ट्रिपल मर्डर कांड का उदभेदन कर लिया है। जिसमे पुलिस ने दो शातिर अपराधियों को भी गिरफ्तार किया है। साथ ही हत्या के दौरान प्रयुक्त सामान भी बरामद किया है। एसपी मनोज कुमार ने प्रेस ब्रीफिंग में यह जानकारी देते हुए कहा है कि यह ट्रिपल मर्डर की घटना के पीछे अष्टधातु से बनी सामानों का आपस मे लेन देन को लेकर हुई है। बताया गया कि घटना का तार अंतरराष्ट्रीय बाजार से भी जुड़ा हुआ है। घटना को जानकारी दी गई कि तीनों मृतकों के तार अंतरराष्ट्रीय तस्करों से जुड़ा हुआ था खासकर नेपाल के तस्करों से अष्टधातु की सामानों के एवज में करोड़ो रूपये का लेन देन भी किया गया था। इस बीच तीनो में रुपये और अष्टधातु की सामानों के बंटवारे में आपसी बिबाद को लेकर इस घटना को कारित किया गया है। जिसका मास्टर माइंड करजाइन थाना क्षेत्र के शातिर अपराधी रामचंद्र मंड़ल बताया गया है। बताया गया कि रामचंद्र मंडल घटना को अंजाम देने के बाद नेपाल जाने के फिराक में था तभी पुलिस ने वैज्ञानिक अनुसंधान के सहारे उसे निर्मली से गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं इस घटना के दूसरे अपराधी राघोपुर थाना क्षेत्र के त्रिभुवन यादब को भी पुलिस ने घर दबोचा है। बताया गया कि पुलिस ने ट्रिपल मर्डर मामले में घटना स्थल से घटना के दौरान प्रयुक्त लाठी सिरिंज और खोखा के अलावे शराब की बोतल भी बरामद किया है। बताया गया कि दोनों अपराधीयों ने अपना जुर्म भी कुबूल कर लिया है जिसके बाद उसे न्यायीक हिरासत में भेज दिया गया है। इसके अलावे पुलिस ने दो अन्य हत्याकांड की गुत्थी भी सुलझा लिया है। जिसमे पिछले महीने वार्ड पार्षद पति ललित यादव हत्या कांड और बगही के समीप की गई एक युवक की लूट के दौरान की गई हत्या की घटना का मामला शामिल है। इन घटनाओं में भी पुलिस ने सात अपराधियों को गिरफ्तार किया है। जिसे न्यायीक हिरासत में भेज दिया गया है। इस तरह पुलिस ने तीनों हत्याकांडो में कुल नौ अपराधियों को गिरफ्तार किया है।
बाइट – मनोज कुमार, एसपी।

LEAVE A REPLY