प्रदीप शर्मा गोपालगंज

गोपालगंज स्पेशल कोर्ट उत्पाद सह एडीजे दो लवकुश कुमार की कोर्ट ने शराब के पन्द्रह माह पुराने मामले में दो तस्करों को दोषी पाते हुए दस-दस बर्ष के कारावास और पांच-पांच लाख रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई है।अर्थदंड नहीं देने पर दोनों को एक-एक बर्ष की अतिरिक्त सजा भी काटनी होगी।कोर्ट ने आदेश में यह भी कहा है कि तस्करों ने अभी तक जेल में जितनी अवधि बिताई है वह सजा की अवधि में समायोजित हो जाएगी।

बता दे की गोपालगंज उत्पाद विभाग की टीम ने 5 जनवरी 2020 को कुचायकोट थाना इलाके के बलथरी चेकपोस्ट पर वाहन जांच के दौरान एक वैगनआर कार से पांच सौ एमएल के 464 पीस वीयर की बोतल बरामद करते हुए दो शराब तस्करों को गिरफ्तार किया था।बरामद वीयर की कुल मात्र 232 लीटर थी।गिरफ्तार तस्करों में सुपौल जिले के मरौना थाने के हररी गांव के अंकेश कुमार

तथा मधुबनी जिले के लौकही थाने के बेड़ियारी गांव के रविन्द्र यादव शामिल थे।दोनों गाजियाबाद से वीयर खरीद कर बिहार के सुपौल जिले के तस्कर अंकेश कुमार के गांव हररी ले जा रहे थे।उत्पाद विभाग की पुलिस ने मामले में प्राथमिकी दर्ज करते हुए दोनों को न्यायिक हिरासत में चनावे कारा भेज दिया था। कांड के अनुसंधानकर्ता की तरफ से आरोप पत्र समर्पित किए जाने के बाद मामले की सुनवाई.एडीजे दो सह स्पेशल कोर्ट उत्पाद लवकुश कुमार की कोर्ट में चल रही थी।सोमवार को कोर्ट ने दोनों को दोषी करार दिया था।बुधवार को स्पेशल पीपी उत्पाद रवि भूषण श्रीवास्तव और बचाव पक्ष के अधिवक्ता की दलीलें सुनने के बाद कोर्ट ने दोनों को आज सजा सुनाई है।

 

LEAVE A REPLY