मुकेश कुमार।

गोपालगंज। भोरे में दहेज के लिए एक विवाहिता को उसके ही ससुराल वालों ने मारपीट कर घर से निकाल दिया।इस मामले में पीड़ित महिला के दिए गए शिकायत पत्र पर भोरे पुलिस ने पति सास-ससुर सहित तीन पर नामजद प्राथमिकी दर्ज कर दी है। बताया जाता है कि भोरे थाना क्षेत्र के सिरसिया गांव निवासी नथुनी यादव के पुत्र अशोक यादव की शादी विजयीपुर थाना क्षेत्र के विरवट गांव निवासी रीना देवी के साथ वर्ष 2004 में संपन्न हुई थी। शादी के 15 साल तक यह दोनों राजी खुशी से रहें ।इस बीच विवाहिता ने दो बच्चों को जन्म दिया लेकिन इसी बीच ससुराल वालों ने विवाहिता से दहेज स्वरूप बोलेरो वाहन की मांग करने लगे। जब महिला ने मांग पूरी नहीं की तो उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया गया। वह पुलिस की दर्ज की गई प्राथमिकी में महिला ने इस बात का भी जिक्र किया है कि वह 4 माह की गर्भवती है। और उसके पति अपने माता-पिता की सहमति पर हमारे बच्चे को गर्भपात करवाना चाह रहे हैं। साथ ही मेरे पति की दूसरी शादी झारखंड निवासी मोती चंद साह की पुत्री आरती देवी से करा दी गई है। वही दर्ज प्राथमिकी इस बात की तरफ साफ इशारा कर रही है।की आरोपित पति ने बाहर वाली के चक्कर में अपनी पत्नी को मारपीट कर बेघर कर दिया है। बरहाल इस मामले में पुलिस ने मारपीट सहित दहेज उत्पीड़न के मामले में नामजद प्राथमिकी दर्ज कर दी है।और पुलिस अग्रिम कार्रवाई में जुटी हुई है।

LEAVE A REPLY