Breaking
देश के छात्र-छात्राएँ पूरी दुनिया में उच्च पदों पर : मंत्री सिंह ये 3 दुख घर की सुंदरता को छीन लेते हैं आरएसजीएल के कारोबार में हुई बढोत्तरी-अग्रवाल 2 साल पहले की थी लव मैरिज; पति की गुहार- पत्नी से बहुत प्यार करता हूं, ढूंढ दीजिए मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी कुशलगढ़ के 2 मन्दिरों में होगा निर्माण कार्य बच्चों की जन्मदिन पार्टी आयोजन करने का व्यापार कैसे शुरू करें | How To Start Kids Birthday Party Pla... 6 लाख 75 हजार की थी सीमेंट, पुलिस देख आरोपी मौके से फरार सीएम योगी ने तीन शिप्ट में  गुणवत्ता के साथ कार्य पर दिया जोर, कहा नवरात्रि मेला में श्रद्धालुओं को ... महिला अधिकारी को जान से मारने की धमकी देने वाला जीएसटी निरीक्षक गिरफ्तार यूपी में सुरक्षित नहीं बेटियां, जौनपुर और बनारस में मिली एक-एक लाश, चंदौली में मिली अर्धनग्‍न लड़की

मुजफ्फरपुर। बारिश ने खोल दी सरकारी तंत्र की पोल, थाना बना तालाब,

Whats App

मुजफ्फरपुर. बिहार में सुशासन की सरकार है, और विकास के एजेंडे को लेकर सरकार काम ही कर रही है। लेकिन इस बारिश ने सरकारी विकास के एजेंडे को पूरी तरह से पोल खोल दिया है।जो तस्वीर आज थाने कैंपस के सामने आए हैं वह हैरान करते हैं।मामला

मुजफ्फरपुर शहर स्थित बेला थाना परिसर का है,जो बारिश के पानी में डूब गया है। थानेदार के चेम्बर में दो फिट पानी भरा है। जिस बैरक में सिपाही रहते हैं, उसमें भी पानी भर गया है। भवन भी जर्जर है। कभी भी गिर सकता है। आवेदकों को थाना तक पहुंचने के लिए घुटने भर पानी से होकर जाना पड़ता है। थानेदार धर्मेंद्र कुमार ने सिपाहियों के रहने के लिए बियाडा वालों से एक कमरा मांगा। काफी कोशिशों के बाद एक कमरा मिला। इसके बाद सिपाहियों को बियाडा भवन में शिफ्ट कराया गया।

एक मुंशी के भरोसे चल रहा थाना

Whats App

थाने पर वैसे तो पानी देखकर लोग कम आ रहे हैं, लेकिन जो आ भी रहे हैं उनसे आवेदन लेने के लिए सिर्फ एक मुंशी है। थानेदार भी पानी के कारण थाना पर नहीं जा रहे हैं। मुंशी आवेदन लेकर जांच करवाने की बात बोलकर आवेदक को भेज देते हैं। अब आवेदकों की परेशानी है कि इतनी मुश्किल से आते हैं और थानेदार के समक्ष अपनी पीड़ा नहीं सुना पाते हैं। मारपीट का केस कराने आई किरण देवी ने बताया कि वह घर से ही घुटना भर पानी हेलकर आईं थीं, लेकिन यहां थानेदार से मुलाकात नहीं हुई।

मोटर लगाने की कवायद शुरू

इधर, थानेदार ने बताया कि वरीय पदाधिकारियों के माध्यम से निगम अधिकारियों से बात हुई है। थाना में लगा पानी मोटर से निकालने की कवायद की जा रही है। साथ ही दवाई का छिड़काव भी कराया जाएगा। बेला थाना में जलजमाव का मुख्य कारण इसका सड़क से तीन फीट नीचे होना है। थाना के पीछे बेला औद्योगिक क्षेत्र है।

देश के छात्र-छात्राएँ पूरी दुनिया में उच्च पदों पर : मंत्री सिंह     |     ये 3 दुख घर की सुंदरता को छीन लेते हैं     |     आरएसजीएल के कारोबार में हुई बढोत्तरी-अग्रवाल     |     2 साल पहले की थी लव मैरिज; पति की गुहार- पत्नी से बहुत प्यार करता हूं, ढूंढ दीजिए     |     मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी कुशलगढ़ के 2 मन्दिरों में होगा निर्माण कार्य     |     बच्चों की जन्मदिन पार्टी आयोजन करने का व्यापार कैसे शुरू करें | How To Start Kids Birthday Party Planning Business In Hindi     |     6 लाख 75 हजार की थी सीमेंट, पुलिस देख आरोपी मौके से फरार     |     सीएम योगी ने तीन शिप्ट में  गुणवत्ता के साथ कार्य पर दिया जोर, कहा नवरात्रि मेला में श्रद्धालुओं को न हो दिक्कत     |     महिला अधिकारी को जान से मारने की धमकी देने वाला जीएसटी निरीक्षक गिरफ्तार     |     यूपी में सुरक्षित नहीं बेटियां, जौनपुर और बनारस में मिली एक-एक लाश, चंदौली में मिली अर्धनग्‍न लड़की     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374