Breaking
गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध, गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन। गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम। गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप, गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक। गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच। गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन, गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन. गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।

गोपालगंज। भोरे में पेड़ के नीचे रोते हालात में ग्रामीणों को मिला नवजात मासूम-ले गई जिला बाल संरक्षण इकाई की टीम।

प्रदीप शर्मा,गोपालगंज।

गोपालगंज के भोरे प्रखंड डूमर नरेंद्र पंचायत के ज्योतिषी टोला गांव के लोगो ने इंसानियत का जीता जागता मिशाल पेश किया है,जो काबिले तारीफ है, जिस नवजात को जन्म देने के बाद,उसकी निर्दई माँ ने अपने आंचल में खेलने के जगह उसे पेड़ के नीचे फेंक दिया, उस निर्दई मां को भी ग्रामीणों ने जमकर कोसा है,,बरहाल इस निर्दयी की जो भी मजबूरियां रही हो उसने ममता का गला तो घोट ही दिया है,

यह हैरतअंगेज खबर भोरे थाना इलाके के डूमर नरेंद्र पंचायत के ज्योतिषी टोला गांव से सामने आया है, बता दें कि बुधवार की रात ज्योतिषी टोला गांव स्थित जीन बाबा स्थान के समीप रात्रि 8:00 बजे ग्रामीणों को रोते हुए गमछे मे लिपटा एक नवजात मिला, इसी बीच गांव का ही एक दुकानदार अपनी दुकान बंद कर घर के लिए आ रहा था,कि उसने रोते हुए बच्चे की आवाज सुनी,

जब वह जिंन बाबा के स्थान के समीप गया तो देखा कि गमछे में लिपटा हुआ कोई मासूम रो रहा है, उसके बाद उसने गांव के लोगों को आवाज दी,उसके बाद गांव के लोग वहां पर पहुंचे और इसकी सूचना ग्रामीणों ने पूर्व मुखिया बहादुर गोंड को दी, बहादुर गोंड उस बच्चे को लेते हुए, गांव के ही एक महिला मुन्ना चौहान की पत्नी गुलाबी देवी को दे दिया, लेकिन बच्चे की हालत ठीक नहीं होने के कारण,ग्रामीण उसे इलाज के लिए भोरे निजी क्लीनिक लेकर आए,और उसका इलाज करवाया,

इसी बीच इसकी सूचना जिला बाल संरक्षण इकाई को मिली, सूचना मिलने के बाद जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी सुधीर कुमार अपनी टीम के साथ भोरे पहुंचे,और भोरे थाने के प्रभारी थाना अध्यक्ष अनिल कुमार पासवान, बाल कल्याण समिति के सदस्य आदित्य कुमार सिंह, समन्वयक डिंपल कुमारी,के साथ गांव पहुंचे, और बच्चे को अपने साथ लेकर गोपालगंज चले गए, हालांकि बाल संरक्षण पदाधिकारी के मुताबिक नवजात बच्चे की स्थिति अभी भी नाजुक बनी है, जिसे प्राथमिक उपचार के लिए गोपालगंज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध,     |     गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन।     |     गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम।     |     गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप,     |     गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक।     |     गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच।     |     गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम     |     गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन,     |     गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन.     |     गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।     |    

विज्ञापन के लिए हमसे संपर्क करें - +919431277374