Breaking
18 जिलों के 46 नगरीय निकायों में प्रचार थमा ठीक से चल नहीं पा रही थी सारा अली खान, एक्ट्रेस की हरकत देख शॉक्ड रह गए नेटिजेंस ज्योतिष पीठ के नए शंकराचार्य पर विवाद शुरू 9 को भेजा नोटिस, सीएचओ को 5 माह से भुगतान न मिलने पर डीएम ने जताई नाराजगी ‘पठान’ की डबिंग में व्यस्त हैं दीपिका सरदार सरोवर डैम से दोगुना हुआ बिजली का उत्पादन राधिका के लिए सहज है सैफ अली खान के साथ काम करना 5 बार कर चुका आत्महत्या की कोशिश, डॉक्टर बोले- मानसिक संतुलन ठीक | In Ludhiana jail, the hawalaati c... मुख्यमंत्री बघेल से भारतीय बैडमिंटन टीम के राष्ट्रीय कोच गोपीचंद ने की सौजन्य मुलाकात पंचायत से बाहर निकालकर पीटा, घर पर शिकायत करने पर जानलेव हमला किया

भारत में अगले महीने तक पीक पर होगा ओमिक्रोन, टूटेंगे सारे रिकार्ड

Whats App

वाशिंगटन। देश में प्रतिदिन कोरोना के मामलों में इजाफा हो रहा है, राज्यों द्वारा नए-नए प्रतिबंध भी लगाए जा रहे हैं। इस बीच एक और डराने वाली खबर सामने आई है। एक यूएस-आधारित स्वास्थ्य विशेषज्ञ के अनुसार भारत में अगले महीने तक कोरोना मामलों की संख्या चरम पर पहुंच जाएगी, देश में प्रति दिन पांच लाख मामले सामने आ सकते हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इस बार देश में ओमिक्रोन वैरिएंट की गंभीरता डेल्टा की तुलना में कम होगी।

इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स एंड इवैल्यूएशन (आइएचएमइ) के निदेशक और वाशिंगटन विश्वविद्यालय में हेल्थ मेट्रिक्स साइंसेज के अध्यक्ष क्रिस्टोफर मरे ने कहा कि भारत समेत दुनिया भर के देश में ओमिक्रॉन वेव आने वाली है और उनका अनुमान है कि इस बार डेल्टा लहर की तुलना में प्रति दिन अधिक मामले होंगे, लेकिन ओमिक्रोन का असर बहुत कम गंभीर होगा और सारे रिकार्ड भी टूट सकते हैं।

प्रतिदिन आएंगे पांच लाख मामले

Whats App

क्रिस्टोफर मरे के अनुसार वर्तमान में उनके पास एक मॉडल हैं जिन्हें वह बाद में जारी करेंगे, उनके अनुसार चरम पर लगभग पांच लाख मामलों के आने की उम्मीद हैं, जो अगले महीने में ही आ सकते हैं। विशेषज्ञ के अनुसार भारत में हाइब्रिड इम्युनिटी है जिसके कारण ओमिक्रोन कम प्रभावी होगा। डॉ मरे ने कहा कि टीकाकरण गंभीर बीमारी के लिए अस्पताल में भर्ती होने और मृत्यु से काफी सुरक्षा प्रदान करेगा, यही वजह है कि भारत में ओमिक्रोन के कई मामले होंगे, लेकिन डेल्टा लहर की तुलना में बहुत कम अस्पताल में भर्ती होंगे।

85.2 फीसद में संक्रमण का कोई लक्षण नहीं होगा

अस्पताल में भर्ती होने की संख्या और विविधता की गंभीरता के बारे में बोलते हुए मरे ने कहा कि 85.2 फीसद संक्रमणों में कोई लक्षण नहीं होगा। लेकिन मामलों की फिर भी काफी संख्या होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि ओमिक्रोन 90 से 95 प्रतिशत कम गंभीर है, लेकिन अभी भी विशेष रूप से वृद्ध व्यक्ति बीमार हो सकते हैं।

18 जिलों के 46 नगरीय निकायों में प्रचार थमा     |     ठीक से चल नहीं पा रही थी सारा अली खान, एक्ट्रेस की हरकत देख शॉक्ड रह गए नेटिजेंस     |     ज्योतिष पीठ के नए शंकराचार्य पर विवाद शुरू     |     9 को भेजा नोटिस, सीएचओ को 5 माह से भुगतान न मिलने पर डीएम ने जताई नाराजगी     |     ‘पठान’ की डबिंग में व्यस्त हैं दीपिका     |     सरदार सरोवर डैम से दोगुना हुआ बिजली का उत्पादन     |     राधिका के लिए सहज है सैफ अली खान के साथ काम करना     |     5 बार कर चुका आत्महत्या की कोशिश, डॉक्टर बोले- मानसिक संतुलन ठीक | In Ludhiana jail, the hawalaati cut his wr, the police regered a case     |     मुख्यमंत्री बघेल से भारतीय बैडमिंटन टीम के राष्ट्रीय कोच गोपीचंद ने की सौजन्य मुलाकात     |     पंचायत से बाहर निकालकर पीटा, घर पर शिकायत करने पर जानलेव हमला किया     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374