Breaking
गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध, गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन। गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम। गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप, गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक। गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच। गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन, गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन. गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।

गोपालगंज।15 वर्षो से अंधेरी कोठरी में बंद. मुन्ना के लिए मुस्कान बने थानेदार।

प्रदीप शर्मा- गोपालगंज

गोपालगंज। अक्सर यह सुनने को मिलता है कि पुलिस डिप्टी करती है,अपराधियों में भय पैदा करने वाली बिहार पुलिस अपने कामों से जानी जाती है, लेकिन इस बीच बिहार पुलिस में भी कुछ ऐसे चेहरे हैं,जिन्होंने बखूबी डिप्टी के दौरान इंसानियत का मिशाल पेश किया है,
आज ऐसा ही एक वाक्या देखने को मिला है, जहां बिहार पुलिस के एक थानेदार ने मानवता का मिसाल पेश किया है,

जाहिर है पुलिस का नाम जुबान पर आते ही तमाम तरह की नकारात्मक छवि उभरकर आपके सामने आती होंगी, हालांकि इन सब के परे बिहार पुलिस का एक ऐसा चेहरा सामने आया है, जिसे नजरअंदाज नहीं किया जा सकता, खबर बिहार के गोपालगंज जिले के उचकागांव का है,जहां 15 साल पूर्व एक शख्स सड़क दुर्घटना में
अपने पैरों को खो दिया, उसके बाद उसकी जिंदगी चारदीवारी के अंधेरों में कटने लगी, क्षेत्र भ्रमण के दौरान थानाध्यक्ष अब्दुल मजीद को उन चार दीवारों के अंदर से एक आवाज मिली, फिर वाहन को रोका,और कुछ ग्रामीणों से बात की, जानकारी मिलने के बाद
थाना अध्यक्ष ने इंसानियत का मिशाल पेश करते हुए
जो दिव्यांग के लिए किया, वह काबिले तारीफ है,


दिव्यांग मुन्ना सिंह को व्हीलचेयर देकर उनके जीवन को सरल बनाने की यह अनोखी कोशिश कि आज सराहना सब कर रहे हैं, हालांकि इस अनोखी पहल को लेकर सुनामी एक्सप्रेस की टीम ने जब थाना अध्यक्ष से बात की तो,उन्होंने कहा कि, व्हीलचेयर प्रदान करने का मुख्य उद्देश्य यह था कि जो शख्स आज 15 साल से अंधेरी कोठरी मैं खुद को असहज महसूस कर रहा है उसे जीने की चाहत मिल जाए,

उसके जीवन में कुछ तो रोशनी आए,जिससे वह अपने आप को कभी अ सहज महसूस ना करें,वह फिर से उन सबके बीच जाए, जिनसे वह आज 15 साल के अंदर कभी नहीं मिल पाया, हालांकि इस दौरान सीतापुंज फाउंडेशन से अखिलेश पांडे,त्रिलोकी ठाकुर, नीतीश कुमार, अभिषेक सिंह, सहित दर्जनों लोग उचकागांव थाना कैंपस में मौजूद रहे, थाना अध्यक्ष द्वारा व्हीलचेयर मिलने के बाद दिव्यांग मुन्ना सिंह के चेहरे पर अनोखी खुशी देखी गई, जिस मुस्कान का श्रेय, थाना अध्यक्ष अब्दुल मजीद को हो ही जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

गोपालगंज। आगामी त्यौहार को लेकर डीएम ने की महत्वपूर्ण बैठक-डीजे और जुलूस निकालने पर प्रतिबंध,     |     गोपालगंज में एईएस और जेई से नहीं हुई एक भी बच्चे की मौत : सिविल सर्जन।     |     गोपालगंज।फाइलेरिया से बचाव के लिए सार्थक सिद्ध होगा सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम: डीएम।     |     गोपालगंज में हैवानियत की हदें पार,6 वर्षीय मासूम से गैंगरेप,     |     गोपालगंज।डीएम ने की पदाधिकारियों के साथ समन्वय समिति की बैठक।     |     गोपालगंज।चुनाव कार्य से मुक्ति के लिए आवेदन देने वाले कर्मियों की हुई मेडिकल जांच।     |     गोपालगंज।आदर्श आचार संहिता का उलंघन करने वालो पर होगी कड़ी कार्यवाही-डीएम     |     गोपालगंज।वेक्टर बोर्न डिजीज पर चल रहे समीक्षा बैठक का हुआ समापन,     |     गोपालगंज। 17 सितंबर को जिले के हर पंचायत में होगा वैक्सीनेशन.     |     गोपालगंज।भोरे में पत्नी को सचिव नहीं बनाने पर प्रभारी प्रधानाध्यापक को मारपीट कर किया घायल ।     |    

विज्ञापन के लिए हमसे संपर्क करें - +919431277374