Breaking
आंखों में मिर्ची डालकर ले गए डेढ़ लाख रुपए, पुलिस तलाश में जुटी मुख्यमंत्री चौहान ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर नमन किया 15 साल की किशोरी रेप, मंडीदीप, रायसेन में छिपकर करता रहा मजदूरी 21वीं राज्य स्तरीय बैडमिंटन स्पर्धा के लिए चुने गए जिले के खिलाड़ी इन घरेलू उपायों से मोटापा करें कम महेंद्रगढ़ में सरकारी जमीन पर कब्जा करके बनाया घर जमींदोज, पुलिस फोर्स रही मौजूद समाज के हर वर्ग के लिए काम कर रही सरकार- पंकज चौधरी सर्व आदिवासी समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की सौजन्य मुलाकात प्रसव के लिए रुपये लेने का आरोप एंटी भू-माफिया के तहत तीन के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्रवाई

बेगुसराय में अपराधियों का तांडव, ज्वेलरी शॉप में की लाखो की लूट पाट ।

Whats App

बसंत कुमार सिन्हा
बिहार में आपराधिक घटनाएं थमने का नाम ही नहीं ले रही हैं।
यहां अपराधियों के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि वे बेखौफ होकर किसी पर भी गोलियां बरसा देते हैं तो किसी की ज्वैलरी की शॉप को लूट लेते हैं. लूट की एक वारदात का मामला फिर से सामने आया है ताजा मामला बेगुसराय जिले का है जहां कोरोना संक्रमण को लेकर नाईट कर्फ्यू के बीच बेखौफ बदमाशों ने ज्वेलरी शॉप के मालिक को बंधक बनाकर दुकान में बड़ी डकैती को अंजाम दिया है। घटना बेगुसराय के बछवारा थाना इलाके के बछवारा बाजार की हैं।
यहां कुछ बदमाशों ने एक राजद कार्यकर्ता को बंधक बनाकर करीब 23 लाख की लूट को अंजाम दिया है. लूटपाट के बाद अपराधी आराम से फरार हो गए. मामले की सूचना पर पहुंची पुलिस छानबीन में जुट गई है।
दरअसल, बछवाड़ा बाजार स्थित राजद के जिला प्रवक्ता श्याम प्रसाद दास के राजलक्ष्मी ज्वेलर्स में हथियारों से लैस बदमाशों ने घुसकर उन्हें बंधक बना लिया. उन्होंने करीब 23 लाख रुपए के सोने और चांदी के जेवरात की डकैती कर ली. श्याम प्रसाद दास दुकान के पिछले हिस्से में कमरे में सोए थे डकैत पिछले हिस्से का ग्रिल तोड़कर दुकान में घुसे और गमछी से दुकानदार को बांध दिया. फिर दुकान की तिजोरी तोड़कर आभूषण ले भागे।
दुकानदार श्याम प्रसाद दास ने बताया कि मैं सोया हुआ था. तभी कुछ टूटने की आवाज पर मैं जगा. लगा कि कोई ग्रिल उखाड़ रहा है, तब तक सभी अपराधी मेरे कमरे के अंदर घुस चुके थे और हथियार के बल पर मुझे बंधक बना लिया. गैस कटर से तिजोरी का ताला काटकर दुकान में रखे सभी जेवरात और नकदी लेकर फरार हो गए. लुटेरों के भागने के बाद जब मैंने शोर मचाया तो आसपास के लोग जमा हुए।
इस घटना से आक्रोशित दुकानदार और ग्रामीणों ने बाजार के सभी दुकानों को बंद करा दिया. सड़क जाम कर दिया और बछवाड़ा प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस दौरान बछवाड़ा समसा पथ को लगभग दो घंटे तक जाम रखा. जाम की सूचना पर पहुंचे तेघड़ा एसडीपीओ ने डकैतों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया. तब लोगों ने जाम खत्म किया. देर शाम डॉग स्क्वायड भी घटनास्थल पर पहुंचा. फिलहाल पुलिस अपराधियों की गिरफ़्तारी के लिए छानबीन में जुटी हुई है।

भीड़भाड़ वाले इलाके में लूट की वारदात
अपराधी किस कदर बेखौफ हैं यह इस बात से ही देखा-समझा जा सकता है कि घटना स्थल बीच बाजार में अवस्थित है तथा पूरी रात लोगों का आवागमन यहां पर जारी रहता है. बछवारा स्टेशन एवं बछवारा एनएच 28 के बीच अवस्थित इस दुकान में अपराधियों के द्वारा घटना को अंजाम देना कहीं न कहीं प्रशासन पर भी बड़े सवाल खड़े कर रहा है.
सीसीटीवी फुटेज की जुगाड़ में जुटी पुलिस
घटना की सूचना मिलने के बाद बछवारा थाने की पुलिस मौके पर पहुंचकर छानबीन शुरू कर दी. अपराधियों के द्वारा फेंके गए खाली डब्बे के सहारे भी पुलिस अपराधियों को पकड़ने का प्रयास कर रही है तथा सीसीटीवी फुटेज की जांच की भी बात कह रही है. उक्त घटना के बाद जहां स्थानीय दुकानदारों में भय का माहौल बना हुआ है वहीं पुलिस जल्द ही अपराधियों की गिरफ्तारी का दावा कर रही है.।

बिहार में अपराधों के मामले में पिछले कुछ समय से लगातार जिस तरह के हालात बने हुए हैं, उससे साफ लग रहा है कि वहां कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर सरकार और प्रशासन एक तरह की लाचारगी की हालत में हैं और अपराधियों के मनोबल बढ़े हुए हैं।
अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि हत्या और बलात्कार डकैती जैसे गंभीर अपराध अब एक बार फिर राज्य की छवि बनते जा रहे हैं और सरकार केवल सख्त कार्रवाई का आश्वासन जारी कर अपना कर्तव्य पूरा मान लेती है।
दरअसल राज्य में पिछले कुछ सालों से जैसे हालात बनते जा रहे हैं, उसमें किसी आम नागरिक की हत्या की यह कोई चौंकाने वाली घटना नहीं है। हाल के महीनों में लगभग हर जिले से हत्या, अपहरण, बलात्कार, लूट आदि अपराधों की बढ़ती संख्या ने सरकार और पुलिस की कार्यशैली को कठघरे में खड़ा कर दिया है। ऐसा नहीं है कि बिहार में अपराधों को लेकर हाल के दिनों में कोई बड़ी तेजी आई है। इसमें एक तरह की निरंतरता रही है।
सच यह है कि अब आम लोगों के बीच एक परोक्ष डर हावी रहने लगा है और कुछ लोग राज्य में अपराधों के पुराने दिनों को याद करने लगे हैं। अफसोस की बात यह है कि राज्य की मौजूदा गठबंधन सरकार के सत्ता में आने का सबसे अहम नारा लोगों को सुशासन मुहैया कराना था, मगर अब इस नारे की हकीकत सबके सामने है।
हर रोज जघन्य अपराधों की जैसी घटना सामने आ रही है, उससे ऐसा लगने लगा है कि या तो कानून-व्यवस्था पर सरकार का नियंत्रण बेहद कमजोर हो गया है या फिर अपराधियों को खुली छूट मिल गई है! वरना क्या वजह है कि एक अपराध पर लोग चिंता जता रहे होते हैं कि कहीं दूसरी जगह से उससे गंभीर घटना की खबर आ जाती है।
क्या कहते है लोग –
कौशल किशोर सिंह उपाध्यक्ष सेंट्रल कोऑपरेटिव बैंक बेगूसराय। अपराध नियंत्रण में पुलिस की सक्रियता जरुरी है लेकिन इसके साथ ही आम लोगो की भी सकारात्मक भागीदारी भी होनी चाहिए बिना सामाजिक सहयोग से पुलिस को काम करने में परेशानी होती है कई बार सुनने में आता है पुलिसे अगर किसी अपराधी को पकड़ने गई तो लोग उसपर पथराव करने लगते है या उनके काम करने अर्चन पैदा करते है जो गलत है। अपराध पर नियंत्रण तभी हो सकेगा जब हमारा भी पुलिस के प्रति सकारात्मक रुख हो । लोग अब संवेदनहीन होते जा रहे है जबकि उन्हें संवेदनशील होना चाहिए ।

Whats App

डॉ मोहतशिम निदेशक सुलेमान आई टी आई बेगुसराय
अपराध में इन दिनों काफी बढ़ोतरी हुई है इधर कुछ महीनो से चोरी डकैती मर्डस की घटनाये भी खूब सुनने को मिलती है पुलिस प्रशाशन शराब और शराबियो को पकरने मे व्यस्त है जबकि अपराधी शराबबंदी की आड़ में अवैध शराब के कारोबार को करने व्यस्त है समाज को जागरूक होने की जरुरत है पुलिस प्रशाशन के भी सकारात्मक पहल से समाज में अमन शांति आ सकेगी।
सचित सिंह मुरिवया अमरपुर सह निदेशक राजा ईट उधोग बेगूसराय।
हमारे क्षेत्र की पुलिस का अपराध पर सकारात्मक पहल है खास कर शराब और शराबियो पर नकेल कसने में चकिया थाना की भूमिका सराहनीय कई अपराधियो में भय का माहौल है। अपराध पर नियंत्रण करने में पुलिस के साथ साथ समाज का भी सकारात्मक पहल की जरुरत है। सचित सिंह मुखिया अमरपुर सह निदेशक राजा ईट उद्योग बेगुसराय
कन्हैया सिंह सक्रिय कार्यकर्ता कांग्रेस बेगुसराय अपराध नियंत्रण में पुलिस की कार्यशैली का सकारात्मक पहल जरुरी है इसके साथ ही आम लोगो को भी समाज के प्रति जागरूक होने की जरुरत है। समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन भी जरुरी है। किसी भी अपराध या अपराधी पर पूरी तरह से नियंत्रण तभी हो सकता है जब पुलिस के साथ साथ हम भी अपनी जिमेदारी समाज के प्रति समझेगे।

आंखों में मिर्ची डालकर ले गए डेढ़ लाख रुपए, पुलिस तलाश में जुटी     |     मुख्यमंत्री चौहान ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर नमन किया     |     15 साल की किशोरी रेप, मंडीदीप, रायसेन में छिपकर करता रहा मजदूरी     |     21वीं राज्य स्तरीय बैडमिंटन स्पर्धा के लिए चुने गए जिले के खिलाड़ी     |     इन घरेलू उपायों से मोटापा करें कम     |     महेंद्रगढ़ में सरकारी जमीन पर कब्जा करके बनाया घर जमींदोज, पुलिस फोर्स रही मौजूद     |     समाज के हर वर्ग के लिए काम कर रही सरकार- पंकज चौधरी     |     सर्व आदिवासी समाज के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री से की सौजन्य मुलाकात     |     प्रसव के लिए रुपये लेने का आरोप     |     एंटी भू-माफिया के तहत तीन के विरुद्ध गैंगस्टर की कार्रवाई     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374