Breaking
जसपाल बांगड़ इलाके के बदमाश; पुलिस आज करेगी खुलासा; हमले में हुई थी एक की मौत ब्लैक आउट साबित हो रहे शहर के मुख्यमार्ग-बाजार, नपा की लापरवाही से बढ़ सकता हैं क्राइम छोटे रथ पर हाथी वाहन में सवार होकर भक्तों को दर्शन दिए, पूर्व कैबिनेट मंत्री अर्चना चिटनिस ने खींचा ... राजू श्रीवास्तव की बेटी अंतरा का अमिताभ बच्चन के नाम भावुक नोट गहलोत के हाथ से जाएगी CM की भी कुर्सी? पलटने लगे हैं विधायक, अब पायलट मंजूर  महाराष्ट्र में एक ही जगह मौजूद हैं दो रेलवे स्टेशन इंदौर महू की रॉयल रेसिडेंसी में धूमधाम ने मनाया जा रहा है नवरात्रि उत्सव चमत्कारों से भरा है मां शारदा का यह शक्तिपीठ, जहां पुजारी से पहले चढ़ा जाता है कोई फूल Wednesday Ka Rashifal: आज नए काम शुरू करने के लिए समय शुभ, परिजनों का मिलेगा सहयोग, पढ़ें अपना राशिफ... गोपालगंज। भोरे में अपहरण और दलित उत्पीड़न के मामले में फरार चल रहे चार गिरफ्तार।

परमबीर सिंह और वाजे के बीच हुई गुप्त बैठक! मुंबई पुलिस के 4 कर्मियों को कारण बताओ नोटस जारी

Whats App

नवी मुंबई पुलिस ने मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह और पिछले साल नवंबर में पुलिस बल से बर्खास्त अधिकारी सचिन वाजे के बीच हुई कथित ‘गुप्त’ बैठक के मामले में चार पुलिस कर्मियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यह जानकारी दी। आरोप है कि परमबीर सिंह और वाजे की दक्षिण मुंबई में न्यायमूर्ति चांदीवाल (अवकाश प्राप्त) आयोग के कक्ष के बगल में मौजूद कमरे में कथित बैठक हुई थी।

एक सदस्यी आयोग मुंबई पुलिस के आयुक्त पद से हटाए जाने के बाद परमबीर सिंह द्वारा राज्य के तत्कालीन गृमंत्री अनिल देशमुख पर लगाए गए कथित भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच कर रहा है। आरोप के मुताबिक दक्षिण मुंबई स्थित आयोग के समक्ष सुनवाई के लिए वाजे को नवी मुंबई पुलिस की स्थानीय सशस्त्र इकाई के चार जवान अपनी सुरक्षा में तलोजा कारागार से ले गए थे जहां पर वाजे और परमबीर सिंह अकेले में एक दूसरे से बात करने में सफल रहे। नवी मुंबई के शीर्ष अधिकारी ने बताया,‘‘कारण बताओं नोटिस डीसीपी (मुख्यालय) ने जारी किया है जो इस मामले की जांच कर रहे हैं। एक बार वह रिर्पोट दे दें तो हम जरूरी कार्रवाई करेंगे।”

उन्होंने बताया कि जिन चार पुलिस कर्मियों को कारण बताओं नोटिस जारी किया गया है उनमें एक उप निरीक्षक और तीन कांस्टेबल शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि दक्षिण मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास ‘एंटीलिया’ के पास पिछले साल फरवरी में एक वाहन से विस्फोटक मिलने के मामले में वाजे नवी मुंबई के तलोजा जेल में बंद है। वाजे ठाणे के कारोबारी मनसुख हिरन की हत्या के मामले में भी मुख्य आरोपी है। अधिकारी ने कहा, ‘‘सिंह और वाजे की मुलाकात की सूचना प्रकाश में आने के बाद मुंबई पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और नवी मुंबई पुलिस को इसकी जानकारी दी। हमने मामले पर गंभीरता से संज्ञान लिया और चारों पुलिस कर्मियों के आरोपी को ले जाने के दौरान प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने के मामले की जांच के आदेश दिए।”

जसपाल बांगड़ इलाके के बदमाश; पुलिस आज करेगी खुलासा; हमले में हुई थी एक की मौत     |     ब्लैक आउट साबित हो रहे शहर के मुख्यमार्ग-बाजार, नपा की लापरवाही से बढ़ सकता हैं क्राइम     |     छोटे रथ पर हाथी वाहन में सवार होकर भक्तों को दर्शन दिए, पूर्व कैबिनेट मंत्री अर्चना चिटनिस ने खींचा रथ     |     राजू श्रीवास्तव की बेटी अंतरा का अमिताभ बच्चन के नाम भावुक नोट     |     गहलोत के हाथ से जाएगी CM की भी कुर्सी? पलटने लगे हैं विधायक, अब पायलट मंजूर      |     महाराष्ट्र में एक ही जगह मौजूद हैं दो रेलवे स्टेशन     |     इंदौर महू की रॉयल रेसिडेंसी में धूमधाम ने मनाया जा रहा है नवरात्रि उत्सव     |     चमत्कारों से भरा है मां शारदा का यह शक्तिपीठ, जहां पुजारी से पहले चढ़ा जाता है कोई फूल     |     Wednesday Ka Rashifal: आज नए काम शुरू करने के लिए समय शुभ, परिजनों का मिलेगा सहयोग, पढ़ें अपना राशिफल     |     गोपालगंज। भोरे में अपहरण और दलित उत्पीड़न के मामले में फरार चल रहे चार गिरफ्तार।     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374