Breaking
स्त्री हो या पुरुष, इन 6 चीजों पर कभी घमंड न करें क्योंकि एक दिन इनका जाना तय है मायके पक्ष ने लगाया दहेज हत्या का आरोप, चार साल पहले हुई थी शादी पीएफआई के तार वैश्विक आतंकियों से जुड़े हैं : केंद्र PFI का शाहीन बाग और जामिया से निकला कनेक्शन पीएफआइ पर प्रतिबंध के बाद भोपाल में पुलिस ने बढ़ाई निगरानी राज्यपाल से मिलने जा रहे अशोक गहलोत, दिल्ली निकलने से पहले देंगे इस्तीफा? जसपाल बांगड़ इलाके के बदमाश; पुलिस आज करेगी खुलासा; हमले में हुई थी एक की मौत ब्लैक आउट साबित हो रहे शहर के मुख्यमार्ग-बाजार, नपा की लापरवाही से बढ़ सकता हैं क्राइम छोटे रथ पर हाथी वाहन में सवार होकर भक्तों को दर्शन दिए, पूर्व कैबिनेट मंत्री अर्चना चिटनिस ने खींचा ... राजू श्रीवास्तव की बेटी अंतरा का अमिताभ बच्चन के नाम भावुक नोट

कोरोना के नए केसों ने फिर डराया 2 लाख 80 हजार के पार

Whats App


नई दिल्ली । बीते 4 दिनों में कोरोना वायरस के नए केसों में जो कमी देखने को मिल रही थी, वह फिर से खत्म हो गई है। बुधवार को आए बीते एक दिन के आंकड़े में कोरोना के 2 लाख 83 हजार नए केस मिले हैं। इसके साथ ही देश भर में कुल सक्रिय मामलों की संख्या तेजी से बढ़ते हुए 18 लाख 31 हजार हो गई है। हालांकि राहत की बात यह है कि एक तरफ कोरोना के नए केस 2,82,970 मिले हैं तो वहीं इसी दौरान 1 लाख 88 हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना को मात दी है। कोरोना के नए केसों में जिस तेजी से इजाफा हो रहा है, उससे माना जा रहा है कि अगले दो दिनों में आंकड़ा 20 लाख के पार हो सकता है। देश में अब तक मिले कुल केसों की तुलना में एक्टिव मामले फिलहाल 4.83 फीसदी हैं। इसके अलावा रिकवरी रेट भी लगातार तेजी से घट रहा है और यह अब 93.88 पर्सेंट है। हालांकि एक्सपर्ट्स के मुताबिक राहत की बात यह है कि कोरोना की तीसरी लहर के दौरान नए केसों का आंकड़ा 4 लाख के पार नहीं जाएगा। इससे पहले कुछ अनुमानों में यह संख्या 4 से 8 लाख तक पहुंचने की बात कही गई थी। इस बीच कोरोना के डेली पॉजिटिविटी रेट की बात करें तो यह 15.13 पर्सेंट हो गया है, जबकि वीकली पॉजिटिविटी रेट 15.53 फीसदी है। कोरोना के बढ़ते केसों के बीच थोड़ी सी राहत यह भी है कि इस बार दूसरी लहर की तरह ज्यादातर लोगों को अस्पताल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ रही है। यही नहीं जिस ओमिक्रॉन वैरिएंट के तेजी से फैलने के दावे किए जा रहे थे, उसके मामले भारत में बहुत ज्यादा नहीं हैं। देश में ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामले फिलहाल 8,961 ही हैं। इससे साफ है कि तीसरी लहर में जो नए केस मिल रहे हैं, उसकी वजह ओमिक्रॉन वैरिएंट नहीं है बल्कि डेल्टा वैरिएंट के चलते ऐसा हो रहा है। देश में कोरोना टीकाकरण की बात करें तो अब तक 158 करोड़ से ज्यादा टीके लग चुके हैं। इसके अलावा 4 करोड़ के करीब किशोरों को भी कोरोना का टीका लगाया जा चुका है।

स्त्री हो या पुरुष, इन 6 चीजों पर कभी घमंड न करें क्योंकि एक दिन इनका जाना तय है     |     मायके पक्ष ने लगाया दहेज हत्या का आरोप, चार साल पहले हुई थी शादी     |     पीएफआई के तार वैश्विक आतंकियों से जुड़े हैं : केंद्र     |     PFI का शाहीन बाग और जामिया से निकला कनेक्शन     |     पीएफआइ पर प्रतिबंध के बाद भोपाल में पुलिस ने बढ़ाई निगरानी     |     राज्यपाल से मिलने जा रहे अशोक गहलोत, दिल्ली निकलने से पहले देंगे इस्तीफा?     |     जसपाल बांगड़ इलाके के बदमाश; पुलिस आज करेगी खुलासा; हमले में हुई थी एक की मौत     |     ब्लैक आउट साबित हो रहे शहर के मुख्यमार्ग-बाजार, नपा की लापरवाही से बढ़ सकता हैं क्राइम     |     छोटे रथ पर हाथी वाहन में सवार होकर भक्तों को दर्शन दिए, पूर्व कैबिनेट मंत्री अर्चना चिटनिस ने खींचा रथ     |     राजू श्रीवास्तव की बेटी अंतरा का अमिताभ बच्चन के नाम भावुक नोट     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374