Breaking
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास। एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजू... एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़क... पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया

सुशील मोदी ने इंडिया गेट पर नेताजी की प्रतिमा लगाने के फैसले को बताया ऐतिहासिक, PM को दी बधाई

Whats App

पटनाः बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने दिल्ली में इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमा लगाने के फैसले को ऐतिहासिक बताया और इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी।

सुशील मोदी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि स्वाधीनता के 75 वें वर्ष में दिल्ली के इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की विशाल प्रतिमा स्थापित करने के निर्णय के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई। नेताजी की 28 फुट ऊंची प्रतिमा वहीं लगेगी, जहां आजादी के 21 साल बाद तक जार्ज पंचम की प्रतिमा लगाए रखी गई थी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने गणतंत्र दिवस समारोहों की शुरुआत 24 जनवरी के बजाय अब से नेताजी की जयंती 23 जनवरी से करने का भी निर्णय किया। मोदी ने कहा कि जब पश्चिम बंगाल में अभी कोई बड़ा चुनाव नहीं है, तब प्रधानमंत्री के इस निर्णय से उन लोगों को आश्चर्य होगा, जो देशभक्ति नहीं, केवल राजनीति समझते हैं।

भाजपा सांसद ने कहा कि वर्ष 1971 के युद्ध में विजय और बंग्लादेश बनने के बाद इंडिया गेट पर जो अमर जवान ज्योति जलाई गई थी, उसका पूरे सैनिक सम्मान के साथ वहां से मात्र 400 मीटर पर बने भव्य राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की ज्योति में विलय किया गया। अब तक के सभी युद्धों में शहीद सभी भारतीय सैनिकों के सम्मान में एक ‘युद्ध स्मारक, एक ज्योति’ की नीति का पूर्व सैनिकों ने भी स्वागत किया। उन्होंने कहा, ‘दुर्भाग्यवश, राहुल गांधी ज्योति विलय को ‘ज्योति बुझाना’ समझ रहे हैं।’

Whats App

सुशील मोदी ने कहा कि अंग्रेजों ने प्रथम विश्वयुद्ध में मारे गए ब्रिटिश इंडियन आर्मी के जवानों की स्मृति में इंडिया गेट पर उनके नाम अंकित कराए। 1972 में कांग्रेस सरकार ने वहां 1971 युद्ध के शहीदों की स्मृति में अमर जवान ज्योति जलवायी, लेकिन वहां शहीद सैनिकों के नाम नहीं जोड़े गए। राष्ट्रीय युद्ध स्मारक में अब तक के सभी शहीदों को याद किया गया है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया     |     गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास।     |     एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल     |     अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी     |     वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत     |     ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी     |     एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का     |     पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर     |     कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी     |     सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374