Breaking
महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री  भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित   निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022 बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान

लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडेय बोले-हमारा दुश्मन बहुत ही चालाक और धूर्त, युद्ध विराम के बावजूद सतर्कता भरपूर

Whats App

श्रीनगर। सेना की चिनार कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडेय ने मंगलवार को कहा कि उत्तरी कश्मीर में एलओसी पर बीते एक साल युद्ध विराम जारी है लेकिन हमने अपनी सतर्कता का स्तर बिल्कुल नहीं घटाया है। हम पूरी तरह सजग हैं क्योंकि हमारा दुश्मन बहुत ही चालाक व धूर्त है। उन्होंने कहा कि हम युद्ध विराम को जारी रखना चाहते हैं ताकि एलओसी के दोनों तरफ बसी आम जनता एक सुरक्षित और शांत वातावरण में जिंदगी गुजार सके। उन्होंने इस अवसर पर आतंकी बने स्थानीय युवाओं से मुख्यधारा में लौटने की अपील भी दोहराई।

आज यहां एक समारोह के बाद पत्रकारों से बातचीत में कोर कमांडर ने कहा कि पाकिस्तान की मजबूरी थी जो उसने बीते साल फरवरी में युद्ध विराम की पुनर्बहाली पर अमल का एलान किया और गोलाबारी बंद कर दी। इसके पीछे उसका मकसद क्या था और वह आगे क्या चाहता है, यह आने वाला समय बताएगा। इसे जानने के लिए हम हालात पर लगातार निगरानी रखे हुए हैं।

लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडेय ने कहा कि आतंकी हिंसा में कमी आ रही है और मेरा कश्मीरी नौजवानों से आग्रह है कि वे हिंसा के मार्ग पर चलने के बजाय उन तत्वों से लड़ें जो उन्हें अपने समाज और राष्ट्र के खिलाफ बंदूक उठाने के लिए उकसाते हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीर की जनता को उन तत्वों से पूरी तरह सावधान रहना होगा जो खुद विदेश में रहकर एक अच्छी जिंदगी जी रहे हैं और घाटी में नाैजवानों का भविष्य तबाह करने के लिए उनके भीतर धर्मांध जिहादी मानसिकता को पैदा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम एक ऐसे दुश्मन से निपट रहे हैं,जो सिर्फ अपना स्वार्थ देखता है। इसलिए पाकिस्तान ने युद्ध विराम बहाल की है। मैं इस एलओसी के इस तरफ अपने जम्मू कश्मीर के लोगों के लिहाज से ही नहीं एलओसी के पार बसे गुलाम कश्मीर के नागरिकों काभी सोचता हूं,युद्ध विराम से दोनों का फायदा हुआ है। युद्ध विराम जारी है,लेकिन हम पूरी सतर्कता बरत रहे हैं।

Whats App

पाकिस्तानी सेना और उसकी खुफिया एजेंसी आज भी घुसपैठियों को इस तरफ धकेलने की साजिश में लगी हुई है। गणतंत्र दिवस के संदर्भ में पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि हालात पूरी तरह शांत व नियंत्रण में है। लोगों में अब आतंकियों का डर नहीं है और वह खुलेआम तिंरगा लेकर निकलते हैं। इस बार यहां गणतंत्र दिवस के मौके पर तिरंगे की मांग बढ़ गई है। यह एक सकारात्मक बदलाव है। यहां कश्मीर के लोगों को उन तत्वों से सावधान रहना होगा जो यहां हमेशा हालात बिगाड़ने की फिराक में रहते हैं और स्थानीय युवाओं को राष्ट्रविरोधी गतिविधियों के लिए उकसाते रहते हैं।बंदूक उठाने वाले स्थानीय यु़वाओं से मुख्यधारा में लौटने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि अब समय बदल चुका है, लोग भी समझदार हो रहे हैं।

महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे     |     टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका     |     गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री      |     भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे     |     सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात     |     श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित       |     निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022     |     बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन     |     जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा     |     अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374