Breaking
महंगे होते कर्ज के बीच क्‍या दूसरे बैंक में लोन ट्रांसफर कराने से मिलेगा फायदा, क्‍या कहते हैं एक्‍स... बुद्ध पूर्णिमा पर लुंबिनी पहुंचे पीएम मोदी बाजार की अच्छी शुरुआत, सेंसेक्स 200 अंक ऊपर, निफ्टी 15800 के पार IRCTC दे रहा वैष्णों देवी, श्रीनगर समेत कई खूबसूरत जगह घूमने का मौका, 8 दिन का है ट्रिप, चेक करें डि... बॉलीवुड एक्टर इमरान खान पत्नी अवंतिका मलिक से लेंगे तलाक रोहित शेट्‌टी की वेब सीरीज की शूटिंग के दौरान घायल हुए सिद्धार्थ मल्होत्रा केरल में जोरदार प्री-मॉनसून बारिश उत्तर भारत में भी जल्द मिलेगी गर्मी से राहत शो खतरों के खिलाडी के कंटेस्टेंट जल्द ही केपटाउन के लिए होंगे रवाना ग्वालियर में तापमान 46 डिसे पार ई-वीकल के लिए लगेगा अलग मीटर

ग़ुलाम नबी आजाद को पद्म भूषण देने पर क्यों खफा है कांग्रेस, आखिर कब खत्म होगी ये अंदरूनी कलह

Whats App

 कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद को पद्मभूषण दिए जाने के बाद कांग्रेस में कलह गहरा गया है और असंतुष्ट नेताओ के समूह तथा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी समर्थकों के बीच दूरी बढ़ गई है। सरकार ने राजनीति मे योगदान के लिए आज़ाद के साथ ही पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री बुद्धदेव भट्टाचार्य को यह सम्मान दिया। बुद्धदेव ने सम्मान लेने से इंकार कर दिया जबकि आजाद ने इसे स्वीकार कर लिया। कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता को यह सम्मान मिलने पर प्रतिक्रिया व्यक्त नहीं की।

उलटे कांग्रेस नेतृ्व के नजदीकी मैने जाने वाले जयरा रमेश ने तब करते हुए कहा, ‘‘बुद्धदेव ने सही किया, उन्होंने गुलाम होने के बजाय आजाद रहना पसंद किया।” आजाद के नेतृत्व वाले असंतुष्ट गुट समूह 23 के नेता कपिल सिब्बल ने ट्वीट कर उन्हें बधाई दी और कहा कि विडंबना है कि कांग्रेस आजाद के योगदान को नहीं पहचान पाई लेकिन देश सेवा के लिए सरकार ने उनके योगदान के वास्ते उन्हें सम्मान दिया है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने भी आजाद को बधाई देते हुए कहा, ‘‘गुलाम नबी जी को जन सेवा और संसदीय लोकतंत्र में उनके आजीवन समृद्ध योगदान के लिए योग्य सम्मान के लिए हार्दिक बधाई।” कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने भी नबी आजाद को बधाई दी और कहा, ‘‘गुलाम नबी आजाद का सियासी सफर लंबा रहा है। आजाद साहब को बधाई, वे इस सम्मान के हकदार हैं।” आजाद, सिब्बल तथा शर्मा कांग्रेस के असंतुष्ट गुट समूह 23 के नेता हैं और यह गुट कांग्रेस में नेतृत्व परिवर्तन की मांग कर रहा है जिससे सोनिया समर्थक नेताओं के साथ उनकी काफी समय से तनातनी चल रही है। हाल ही में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक भी इसी गुट की मांग पर हुई जो काफी हंगामेदार रही।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

महंगे होते कर्ज के बीच क्‍या दूसरे बैंक में लोन ट्रांसफर कराने से मिलेगा फायदा, क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट     |     बुद्ध पूर्णिमा पर लुंबिनी पहुंचे पीएम मोदी     |     बाजार की अच्छी शुरुआत, सेंसेक्स 200 अंक ऊपर, निफ्टी 15800 के पार     |     IRCTC दे रहा वैष्णों देवी, श्रीनगर समेत कई खूबसूरत जगह घूमने का मौका, 8 दिन का है ट्रिप, चेक करें डिटेल्स     |     बॉलीवुड एक्टर इमरान खान पत्नी अवंतिका मलिक से लेंगे तलाक     |     रोहित शेट्‌टी की वेब सीरीज की शूटिंग के दौरान घायल हुए सिद्धार्थ मल्होत्रा     |     केरल में जोरदार प्री-मॉनसून बारिश उत्तर भारत में भी जल्द मिलेगी गर्मी से राहत     |     शो खतरों के खिलाडी के कंटेस्टेंट जल्द ही केपटाउन के लिए होंगे रवाना     |     ग्वालियर में तापमान 46 डिसे पार     |     ई-वीकल के लिए लगेगा अलग मीटर     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374