Breaking
यूपी के 1440 छात्रों को अटल आवासीय विद्यालयों में मिलेगा प्रवेश OPD कार्ड के लिए स्कैन एंड शेयर सेल्फ रजिट्रेशन सुविधा शुरू, मरीजों का बचेगा समय दीवारों में बड़ी-बड़ी दरारें, अनहोनी के डर से मिडिल स्कूल में लग रही प्राइमरी की क्लासेस गुजरात में पीएम मोदी ने कहा- खड़गे को मेरी तुलना रावण से करना सिखाया गया बस्ती में बच्‍चों से लेकर 90 साल की बुजुर्ग महिला तक पहुंची, 109 लोगों की हुई जांच फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' पर बयान देने वाले फिल्मकार नादव लापिड ने मांगी माफी.. UP : चूहे की हत्‍या मामला, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से केस में नया मोड़ अज्ञात वाहन की टक्कर से एक अभिभाषक की मौत, साथी युवक गंभीर घायल टॉयलेट में मोबाइल का इस्तेमाल हो सकता है खतरनाक साइकिल चलाकर वोट डालने पहुंची सूरत की महापौर हेमाली बोघावाला

एनआईए कर सकती है कश्मीर में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की हत्याओं की जांच

Whats App

श्रीनगर : कश्मीर में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की हत्या से जुड़े मामलों की जांच राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) अपने हाथ में ले सकती है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

घाटी के विभिन्न हिस्सों में इस महीने आतंकवादियों ने दो शिक्षकों और एक दवा विक्रेता समेत कुल 11 लोगों की हत्या कर दी है। आतंकवादियों के हमलों में मारे गए लोगों में से पांच प्रवासी मजदूर थे, जिनमें से चार लोग बिहार के थे। इन हत्याओं के कारण जीविका कमाने के लिए कश्मीर जाने वाले प्रवासी मजदूरों में भय व्याप्त हो गया है और बड़ी संख्या में वे पलायन कर रहे हैं।

गौरतलब है कि देश के विभिन्न हिस्सों से लाखों मजदूर हर साल मार्च की शुरुआत में चिनाई, बढ़ईगीरी, वेल्डिंग और खेती जैसे कुशल और अकुशल नौकरियों के लिए घाटी में आते हैं और दिसंबर में सर्दियों की शुरुआत से पहले घर वापस चले जाते हैं।

Whats App

एक प्रमुख कश्मीरी पंडित और श्रीनगर की सबसे प्रसिद्ध फार्मेसी के मालिक माखन लाल बिंदरू की पांच अक्टूबर को उनकी दुकान पर आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके दो दिन बाद सुपिंदर कौर और दीपक चंद की यहां एक सरकारी स्कूल में हत्या कर दी गई। दोनों ही शिक्षक थे।

अधिकारियों के मुताबिक इन तीन हत्याओं की जांच एनआईए द्वारा किए जाने की संभावना है। इस बारे में हालांकि अभी तक अधिसूचना जारी नहीं की गयी है। एनआईए प्रवासी मजदूरों की हत्याओं की जांच भी अपने हाथ में ले सकती है।

जिस दिन बिंदरू की हत्या हुई थी, उसी दिन बिहार के चाट विक्रेता वीरेंद्र पासवान और टैक्सी चालक मोहम्मद शफी लोन की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

पांच हत्याओं के अलावा, आतंकवादियों ने दो अक्टूबर को श्रीनगर के करण नगर इलाके में माजिद अहमद गोजरी और शहर के बटमालू इलाके में मोहम्मद शफी डार की हत्या कर दी थी। श्रीनगर और पुलवामा जिलों में 16 अक्टूबर को बिहार के अरविंद कुमार साह और उत्तर प्रदेश के सगीर अहमद की हत्या कर दी गयी थी।

यूपी के 1440 छात्रों को अटल आवासीय विद्यालयों में मिलेगा प्रवेश     |     OPD कार्ड के लिए स्कैन एंड शेयर सेल्फ रजिट्रेशन सुविधा शुरू, मरीजों का बचेगा समय     |     दीवारों में बड़ी-बड़ी दरारें, अनहोनी के डर से मिडिल स्कूल में लग रही प्राइमरी की क्लासेस     |     गुजरात में पीएम मोदी ने कहा- खड़गे को मेरी तुलना रावण से करना सिखाया गया     |     बस्ती में बच्‍चों से लेकर 90 साल की बुजुर्ग महिला तक पहुंची, 109 लोगों की हुई जांच     |     फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ पर बयान देने वाले फिल्मकार नादव लापिड ने मांगी माफी..     |     UP : चूहे की हत्‍या मामला, पोस्टमार्टम रिपोर्ट से केस में नया मोड़     |     अज्ञात वाहन की टक्कर से एक अभिभाषक की मौत, साथी युवक गंभीर घायल     |     टॉयलेट में मोबाइल का इस्तेमाल हो सकता है खतरनाक     |     साइकिल चलाकर वोट डालने पहुंची सूरत की महापौर हेमाली बोघावाला     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374