Breaking
भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर  कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार

मालदीव ने कहा- भारत के साथ संबंध पहले की तुलना में काफी मजबूत, कोरोना में सबसे पहले मदद की

Whats App

नई दिल्ली। मालदीव की रक्षा मंत्री मारिया दीदी ने गुरुवार को कहा कि मालदीव और भारत के बीच संबंध ‘पहले की तुलना में काफी मजबूत’ हैं और जरूरत के समय नई दिल्ली ने हमेशा माले की सहायता की है। एक रक्षा सम्मेलन के दौरान रिकार्डेड वीडियो में दीदी ने विकास के सभी क्षेत्रों में मालदीव को भारत के सहयोग की भी सराहना की। उन्होंने कहा कि आज मालदीव और भारत के बीच संबंध काफी मजबूत हैं। यह हमारे साझा मूल्यों और इतिहास पर ही निर्भर नहीं है, बल्कि जरूरत के समय सबसे पहले भारत हमारी मदद के लिए खड़ा हुआ है।

उन्होंने कहा कि 2004 में सुनामी आपदा से लेकर कोरोना महामारी से लड़ने में सहयोग देने तक भारत ने सबसे पहले मदद दी।दीदी ने कहा कि मालदीव के राष्ट्रपति और लोगों की तरफ से मैं भारत की सरकार और लोगों की हमारे देश की हर क्षेत्र में प्रगति में सहयोग के लिए प्रशंसा करती हूं। उन्होंने कहा, ‘आत्मनिर्भर भारत’ के निर्माण के प्रयास में हम भारत को शुभकामनाएं देते हैं।

कोरोना से लड़ने में भारत ने सबसे पहले मदद दी

Whats App

दीदी ने कहा कि मालदीव के राष्ट्रपति और लोगों की तरफ से मैं भारत की सरकार और लोगों की हमारे देश की हर क्षेत्र में प्रगति में सहयोग के लिए प्रशंसा करती हूं। उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत के निर्माण के प्रयास में हम भारत को शुभकामनाएं देते हैं। उन्होंने कहा कि 2004 में सुनामी आपदा से लेकर कोविड-19 महामारी से लड़ने में सहयोग देने तक भारत ने सबसे पहले मदद दी। भारत ने पिछले वर्ष सितंबर में मालदीव को महामारी के आर्थिक प्रभाव को कम करने में मदद के लिए 25 करोड़ डॉलर का सहयोग दिया जिसके लिए माले ने भारत को धन्यवाद दिया।

भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने गुरुवार को अपने मलेशियाई समकक्ष जनरल टैन श्री दातुक ज़मरोज़ बिन मोहम्मद ज़ैन से फोन पर बात की। अधिकारियों ने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय रक्षा सहयोग को बढ़ाने पर विचारों का आदान-प्रदान किया।

भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर      |     कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |     एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374