Breaking
राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक...तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग! भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन... सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगल... EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका! हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल

कैमूर की विधि व्यवस्था संभालने में महिला पुलिस अधिकारी भी निभा रही भागीदारी, हर मोर्चे पर दिखा रही दम

Whats App

भभुआ।  जिले के लगभग सभी विभागों में आधी आबादी की भागीदारी तो चल ही रही है। लेकिन विधि व्यवस्था संधारण की कमान संभालने वाले पुलिस विभाग में तीन चार वर्ष पूर्व तक नाम मात्र की रही। अब पुलिस विभाग में भी नारी सशक्तीकरण की झलक व्यवहार में दिखाई दे रही है। फिलवक्त जिले के दूरस्थ क्षेत्र में स्थित कुढ़नी और कुछिला थाना को छोड़कर अन्य सभी थानों पर महिला पुलिस पदाधिकारी व महिला पुलिस कर्मियों की तैनाती हो चुकी है। इसका एक मात्र उद्देश्य महिलाओं से जुड़े मामलों को प्राथमिकता के आधार पर निष्पादित कराना है

विभागीय आकड़ों के अनुसार जिले कैमूर में 20 महिला पुलिस पदाधिकारी व एक 100 से अधिक महिला सिपाही फिलहाल कार्यरत हैं, जिनकी प्रतिनियुक्ति भभुआ, भगवानपुर, चैनपुर, चांद, अधौरा, सोनहन, बेलांव, करमचट, मोहनियां, दुर्गावती, कुदरा, रामगढ व नुआंव आदि थानों पर की गई है। इसके अलावा जिले में कार्यरत महिला थाना व अजा-अजजा थानों पर भी महिला पदाधिकारी व महिला पुलिस कर्मी पूर्व से ही कार्यरत हैं। जिले में आनलाइन प्राथमिकी दर्ज कराने की चल रही प्रक्रिया के पूरी होने पर महिलाएं अपने मायका या ससुराल कहीं भी रहने की स्थिति में अपने साथ हुए घरेलू हिंसा या किसी भी प्रकार के उत्पीड़न की हालत में उसी स्थान पर प्राथमिकी दर्ज करा सकेंगी

Whats App

इसके साथ ही ट्रैफिक व्यवस्था संभालने में भी महिला कर्मियों की भागीदारी बढ़ी है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि, जिले में पर्याप्त संख्या में महिला पुलिस पदाधिकारी व महिला पुलिस कर्मी उपलब्ध हैं। जिनकी प्रतिनियुक्ति लगभग सभी थानों में कर दी गई। पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार  का कहना है कि महिलाओं से जुड़े किसी भी मामले में त्वरित कार्रवाई करने का निर्देश पूर्व में ही दिया जा चुका है। महापर्व छठ पर भी घाटों पर महिला पुलिस पदाधिकारी व महिला पुलिस कर्मियों की अलग से तैनाती की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट     |     मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक…तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग!     |     भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी     |     भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का फूंका पुतला     |     सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगलवार को होगा तय     |     EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका!     |     हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत     |     MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी     |     इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात     |     रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374