Breaking
कैलिफोर्निया के चर्च में फायरिंग से 1 की मौत ज्ञानवापी मस्जिद पर कोर्ट ने आदेश में शिवलिंग मिलने का जिक्र किया, CRPF करेगी सुरक्षा आपके शहर में आज बैंक खुले हैं या नहीं, जल्दी से कर लें चेक, वरना अटक जाएंगे काम जानिए क्यों Adani Cement के बड़े अधिग्रहण के बाद सीमेंट सेक्टर के शेयरों में आई जबरदस्त तेजी? – Offi... सोना खरीदने का है प्लान तो इस समय 50,000 के नीचे चल रहा भाव, जल्दी कर चेक करें रेट्स ईएसआइसी अस्पताल में ओपीडी सेवाएं कल से होगी शुरू राजधानी में कल ये सड़कें रहेंगी ब्लॉक, कई दिग्गजों समेत सड़क पर उतरेंगे कार्यकर्ता, पब्लिक की बढ़ सक... गुजरात का पहला क्वालीफायर खेलना तय कंप्यूटर शोरूम में लगी भीषण आग पूर्व विधायक अजय राय गैंगेस्टर केस में गवाही देने गाजीपुर पहुंचे

फेक न्यूज पर केंद्र सरकार सख्त! Facebook को किया जवाब-तलब, मांगी ये डिटेल्स

Whats App

नई दिल्ली। केंद्र सरकार हेट स्पीड के आरोपों को लेकर सख्ती के मूड में है। इसे लेकर केंद्र सरकार ने दिग्गज टेक कंपनी Facebook को पत्र लिखकर लिखित में जवाब देने को कहा है कि आखिर Facebook की तरफ से हेट स्पीच को लेकर क्या काम किये गये हैं। केंद्र सरकार की तरफ से Facebook ने कहा कि वो विस्तार में जानकारी दे कि उसने अब तक सोशल मीडिया पर फैलाये जाने वाली हेट स्पीच पर लगाम लगाने के लिए क्या-क्या काम किये हैं। साथ ही कंपनी ने क्या एल्गोरिदम यूज किया है। दरअसल ऐसा आरोप है कि Facebook अपने प्लेटफॉर्म पर फेक न्यूज और हेट स्पीड को रोकने में विफल रही है। ऐसे में केंद्र सरकार सख्ती के मूड में आ गयी है। वहीं अब सरकार की तरफ से इस मामले में Facebook को जवाब-तलब किया गया है।

Facebook के भारत में 40 करोड़ से ज्यादा यूजर्स 

बता दें कि भारत सरकार का यह कदम काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि हाल ही में इंटरनल डॉक्यूमेंट से मालूम चला है कि भारत गलत सूचनाओं और हेट स्पीच को लेकर कई मोर्चों पर संघर्ष कर रहा है। इसके चलते भारत में बड़े पैमाने पर हिंसा भी फैली है। हेट स्पीड और गलत सूचनाओं को फैलाने में सोशल मीडिया का अहम रोल है। बता दें कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म Facebook भारत में एक बड़ा मार्केट शेयर रखता है। भारत में Facebook के करीब 40 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हैं।

Whats App

केंद्र सरकार ने किया जवाब-तलब 

यूएस मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो रिसर्चर ने दावा किया है कि सोशल मीडिया दिग्गज कंपनी पर कई सारे ग्रुप्स और पेज मौजूद हैं, जहां भड़काऊ और भ्रामक कंटेंट मौजूद है। सूत्रों की मानें, तो मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रानिक्स एंड आईटी (MeitY) की तरफ से Facebook को एक पत्र लिखकर सोशल मीडिया की तरफ से उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी मांगी गयी है। हालांकि Facebook की तरफ से सरकार की तरफ से मांगे जाने वाले जवाब को लेकर कोई टिप्पणी नहीं की गई है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

कैलिफोर्निया के चर्च में फायरिंग से 1 की मौत     |     ज्ञानवापी मस्जिद पर कोर्ट ने आदेश में शिवलिंग मिलने का जिक्र किया, CRPF करेगी सुरक्षा     |     आपके शहर में आज बैंक खुले हैं या नहीं, जल्दी से कर लें चेक, वरना अटक जाएंगे काम     |     जानिए क्यों Adani Cement के बड़े अधिग्रहण के बाद सीमेंट सेक्टर के शेयरों में आई जबरदस्त तेजी? – Officenewz Hindi     |     सोना खरीदने का है प्लान तो इस समय 50,000 के नीचे चल रहा भाव, जल्दी कर चेक करें रेट्स     |     ईएसआइसी अस्पताल में ओपीडी सेवाएं कल से होगी शुरू     |     राजधानी में कल ये सड़कें रहेंगी ब्लॉक, कई दिग्गजों समेत सड़क पर उतरेंगे कार्यकर्ता, पब्लिक की बढ़ सकती है मुसीबतें     |     गुजरात का पहला क्वालीफायर खेलना तय     |     कंप्यूटर शोरूम में लगी भीषण आग     |     पूर्व विधायक अजय राय गैंगेस्टर केस में गवाही देने गाजीपुर पहुंचे     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374