Breaking
डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल... सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम

दिल्ली-NCR में सोमवार को हवा की दिशा में होगा बदलाव, प्रदूषण से राहत की उम्मीद

Whats App

नई दिल्ली। दिल्ली के आसपास के राज्यों में पराली जलाने की घटनाएं बढ़ी हैं। फिर भी दिल्ली एनसीआर में शनिवार को पिछले दिन के मुकाबले प्रदूषण के स्तर में आंशिक सुधार हुआ। इसका कारण यह है कि हवा की दिशा धुआं दिल्ली पहुंचने के लिए पूरी तरह अनुकूल नहीं रही। साथ ही हवा की गति भी थोड़ी अधिक रही। इस वजह से धुआं अधिक ठीक नहीं पाया। फिर भी दिल्ली एनसीआर में हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में रही। प्रदूषण में पराली के धुएं की भूमिका 12 फीसद रही, जो एक दिन पहले 20 फीसद थी। इस तरह प्रदूषण में पराली के धुएं की भूमिका आठ फीसद कम हुई है।

सफर इंडिया के अनुसार रविवार को भी हवा की गुणवत्ता खराब श्रेणी में रह सकती है। सोमवार को हवा की दिशा में बदलाव बदलाव होगा। उस दिन दक्षिण पूर्व दिशा की तरफ से हवा चलने से प्रदूषण के स्तर में थोड़ी और सुधार होने की उम्मीद है। इसलिए सोमवार को हवा की गुणवत्ता मध्यम श्रेणी में उच्च स्तर पर रह सकती है।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, दिल्ली में एयर इंडेक्स 268 दर्ज किया गया, जो खराब श्रेणी में है। एक दिन पहले दिल्ली का एयर इंडेक्स 283 था। सीपीसीबी के अनुसार पश्चिम दिशा की तरफ से चलने वाली हवा की गति आठ से 15 किलोमीटर प्रति घंटे रही। एनसीआर के शहरों में सबसे अधिक एयर इंडेक्स गाजियाबाद में 297 दर्ज किया गया। एक दिन पहले गाजियाबाद का एयर इंडेक्स 321 था।

Whats App

सफर इंडिया के अनुसार 29 अक्टूबर को पराली जलाने की 1826 घटनाएं हुईं। जबकि 28 अक्टूबर को दिल्ली के आसपास के राज्यों में पराली जलाने की 1112 घटनाएं हुई थीं। तब उत्तर पश्चिम दिशा की तरफ से हवा चलने के कारण दिल्ली के प्रदूषण में पराली के धुएं की भूमिका 20 फीसद पहुंच गई थी। इस वजह से वातावरण में पीएम-2.5 का स्तर 124 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर व पीएम-10 का स्तर 253 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर दर्ज किया गया था। शनिवार को वातावरण में पीएम-2.5 का स्तर 113 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर व पीएम-10 की मात्रा 247 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर रहा।

सीपीसीबी के अनुसार पराली जलाने की घटनाएं

पंजाब- 1363

हरियाणा- 161

उत्तर प्रदेश- 32

दिल्ली एनसीआर का एयर क्वालिटी इंडेक्स

दिल्ली- 268

फरीदाबाद- 268

गाजियाबाद- 297

ग्रेटर नोएडा- 273

गुरुग्राम- 272

नोएडा- 260

सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे     |     इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल।     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374