Breaking
डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल... सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम

…तो 14 साल बाद इस वजह से बढ़े माचिस के दाम, अब एक बॉक्स में 36 की जगह होंगी 50 तीलियां

Whats App

नई दिल्ली। 14 साल बाद माचिस के दाम बढ़ गए हैं। माचिस अब 1 रुपये के बजाये 2 रुपये में मिलेगी और बढ़ी हुई कीमत 1 दिसंबर 2021 से लागू है। कच्चे माल की कीमत में वृद्धि के कारण उत्पादन लागत में वृद्धि हुई है जिससे माचिस के दाम बढ़ गए हैं। हालांकि, जब माचिस 2 रुपये का खरीदा जाएगा तो उपभोक्ताओं को एक बॉक्स में अधिक माचिस की तीलियां मिलेंगी, अब 36 माचिस की तीलियों के बजाये 50 तीलियां प्रति बॉक्स होंगी

नेशनल स्मॉल माचिस मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के सचिव वीएस सेथुरथिनम ने कहा कि प्रस्तावित मूल्य वृद्धि 14 साल बाद आई है। कच्चे माल की कीमत में वृद्धि हुई है, जिससे उत्पादन की लागत में उछाल आया है, उन्होंने कहा कि हमारे पास बिक्री (अधिकतम खुदरा मूल्य) मूल्य बढ़ाने के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं है।

सेथुरथिनम ने कहा सभी 14 प्रमुख कच्चे माल की कीमत में वृद्धि हुई है। एक किलो रेड फॉस्फोरस 410 रुपये से बढ़कर 850 रुपये, वैक्स 72 रुपये से 85 रुपये, पोटेशियम क्लोरेट 68 रुपये से 80 रुपये, स्प्लिंट्स 42 रुपये से बढ़कर 48 रुपये हो गया है। बाहरी बॉक्स 42 रुपये से 55 रुपये और इनर बॉक्स 38 रुपये से 48 रुपये हो गया है। इस तरह सभी कच्चे माल की कीमत कई गुना बढ़ गई है।

Whats App

उन्होंने कहा कि ईंधन की कीमतों में वृद्धि भी माचिस के दाम में बढ़ोतरी का एक कारण रहा है। इससे परिवहन लागत में वृद्धि हुई है। इसलिए 1 दिसंबर से एक माचिस की कीमत मौजूदा 1 रुपये से बढ़ाकर 2 रुपये (MRP) कर दी जाएगी। लगभग छह महीने के बाद हम स्थिति की समीक्षा कर सकते हैं।

2007 में कीमत पचास पैसे से बढ़ाकर 1 रुपए प्रति माचिस की गई थी। हालांकि, सेथुरथिनम ने कहा कि माचिस की तीलियों की संख्या मौजूदा 36 से बढ़ाकर 50 कर दी जाएगी। जब आप 2 रुपये का भुगतान करते हैं, तो आपको 50 माचिस की तीलियां मिलेंगी। उन्होंने कहा कि मूल्य वृद्धि से उत्पादन लागत में वृद्धि के कारण पैदा हुई स्थिति से निपटने में मदद मिलेगी और सभी एसोसिएशन के साथ विचार-विमर्श के बाद बढ़ोतरी का फैसला किया गया।

उन्होंने कहा कि करीब पांच लाख लोग प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से माचिस उद्योग पर निर्भर हैं और 90 फीसद महिलाएं इसमें काम करती हैं। तमिलनाडु माचिस की डिब्बियों का एक प्रमुख निर्माता है और कोविलपट्टी, सत्तूर, शिवकाशी, थिउरथंगल, एट्टायापुरम, कज़ुगुमलाई, शंकरनकोइल, गुडियाट्टम और कावेरीपक्कम प्रमुख उत्पादन केंद्र हैं।

सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे     |     इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल।     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374