Breaking
रमा देवी बंशीलाल गुर्जर और नम्रता प्रितेश चावला के नाम पर चल रहा मंथन महिलाओं की उंगलियां होती है ऐसी, स्वभाव से होती हैं गंभीर और बड़ी खर्चीली इन चीजों से किडनी हो सकती है खराब दिल्ली से किया था नाबालिग को अगवा, CCTV फुटेज से आरोपियों की हुई थी पहचान गृह विभाग में अटकी फ़ाइल, क्या रिटायर्ड होने के बाद होगा प्रमोशन एशिया कप के लिए टीम का ऐलान आज वास्तु की ये छोटी गलतियां कर सकती हैं आपका बड़ा नुकसान, खो सकते हैं आप अपना कीमती दोस्त आय से अधिक संपत्ति मामले में शिबू सोरेन को लोकपाल का नोटिस बाइक से कोरबा लौटने के दौरान हादसा, दूसरे जवान की हालत गंभीर; पुलिस लाइन में पदस्थ थे दोनों | road a... खरीदें Redmi का शानदार 5G स्मार्टफोन

सरदार पटेल PM होते तो उनके जीवनकाल में ही हो जाता कश्मीर समस्या का समाधानः सुशील मोदी

Whats App

पटनाः बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल को उनकी जयंती पर याद करते हुए कहा कि आजादी के बाद यदि वह प्रधानमंत्री होते तो कश्मीर की समस्या का समाधान उनके जीवनकाल में ही हो गया होता।

सुशील मोदी ने रविवार को ट्वीट कर कहा कि यदि सरदार वल्लभ भाई पटेल न होते तो आज कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं होता और यदि वे प्रधानमंत्री होते तो कश्मीर की समस्या का समाधान उनके जीवनकाल में ही हो गया होता। उन्होंने कहा, ‘नेहरू तो सरदार को मंत्रिमंडल में लेना भी नहीं चाहते थे, लेकिन गांधी जी के दबाव में उन्हें पटेल को सरकार में शामिल कर गृहमंत्री बनाना पड़ा। यदि गांधी जी ने देशहित में थोड़ा बड़ा दिल दिखाते हुए सरदार साहब को प्रधानमंत्री बनवाया होता, तो आज भारत का नक्शा कुछ और शानदार होता। ऐसे महापुरुष को शत्-शत् नमन।’

भाजपा सांसद ने कहा कि आजादी के तुरंत बाद जब पाकिस्तानी सेना की मदद से कबाइलियों ने कश्मीर पर हमला कर दिया था, तब प्रधानमंत्री नेहरू की अनिच्छा के बावजूद पटेल ने हमलावरों को खदेड़ने के लिए सेना भेजी, जिससे कश्मीर बच गया। उन्होंने कहा कि सेना पूरा कश्मीर खाली करा लेती, लेकिन नेहरू ने मामले को संयुक्त राष्ट्र में ले जाकर युद्ध विराम घोषित कर दिया। इससे पाकिस्तान को इस मुद्दे का अन्तरराष्ट्रीयकरण करने का मौका मिला। सुशील मोदी ने कहा कि सरदार पटेल नेहरू-गांधी परिवार के नहीं थे, इसलिए कांग्रेस ने कभी उनका सम्मान नहीं किया। हाल में जब कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में कश्मीर के एक सदस्य ने सरदार साहब की आलोचना की, तब किसी ने इसका विरोध नहीं किया।

Whats App

पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दल से ऊपर देशभक्ति की भावना से सरदार पटेल को पूरा सम्मान दिया। उनकी जयंती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाने की शुरुआत और सरदार सरोवर बांध पर पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा का निर्माण उनके प्रति एनडीए सरकार की विनम्र श्रद्धांजलि है।

रमा देवी बंशीलाल गुर्जर और नम्रता प्रितेश चावला के नाम पर चल रहा मंथन     |     महिलाओं की उंगलियां होती है ऐसी, स्वभाव से होती हैं गंभीर और बड़ी खर्चीली     |     इन चीजों से किडनी हो सकती है खराब     |     दिल्ली से किया था नाबालिग को अगवा, CCTV फुटेज से आरोपियों की हुई थी पहचान     |     गृह विभाग में अटकी फ़ाइल, क्या रिटायर्ड होने के बाद होगा प्रमोशन     |     एशिया कप के लिए टीम का ऐलान आज     |     वास्तु की ये छोटी गलतियां कर सकती हैं आपका बड़ा नुकसान, खो सकते हैं आप अपना कीमती दोस्त     |     आय से अधिक संपत्ति मामले में शिबू सोरेन को लोकपाल का नोटिस     |     बाइक से कोरबा लौटने के दौरान हादसा, दूसरे जवान की हालत गंभीर; पुलिस लाइन में पदस्थ थे दोनों | road accident in chhattisharh; bike rider chhattisgarh police head constable dies in car collision in korba     |     खरीदें Redmi का शानदार 5G स्मार्टफोन     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374