Breaking
भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर  कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार

ग्लासगो में भारतीय समुदाय के प्रतिनिधियों से पीएम मोदी ने की मुलाकात, काप-26 में लेंगे हिस्सा

Whats App

ग्लासगो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्रिटेन से अपने यूरोपीय दौरे की शुरुआत कर दी है। वह इटली की राजधानी रोम में आयोजित जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के बाद अब वह रविवार को ग्लासगो पहुंचे हैं। यहां पीएम मोदी संयुक्त राष्ट्र जलवायु शिखर सम्मेलन (COP-26) में हिस्सा लेंगे। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्काटलैंड के ग्लासगो में भारतीय समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात की है। ग्लासगो में अपने होटल पहुंचने पर प्रधानमंत्री मोदी का भव्य स्वागत भारतीय प्रवासी प्रतिनिधियों के एक बड़े समूह ने किया, जिन्होंने ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाए।

इसके पहले पीएम मोदी ने अपने ग्लासगो दौरे की जानकारी ट्वीट कर भी दी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘ग्लासगो पहुंच गया हूं। यहां काप-26  (COP-26) में हिस्सा लूंगा। इस दौरान मैं जलवायु परिवर्तन को कम करने और इस संबंध में भारत के प्रयासों को स्पष्ट करने के लिए अन्य विश्व नेताओं के साथ काम करने के लिए उत्सुक हूं।’

बोरिस जानसन के साथ होगी पीएम मोदी की बैठक

बता दें कि पीएम मोदी काप-26 में भाग लेने वाले हैं। साथ ही संयुक्त राष्ट्र (यूएन) की बैठक के मौके पर अपने ब्रिटिश समकक्ष बोरिस जानसन के साथ द्विपक्षीय वार्ता भी करेंगे। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री द्वारा इस साल की शुरुआत में दो बार कोरोना महामारी के कारण अपनी भारत यात्रा रद करने के बाद मोदी और जानसन के बीच यह पहली व्यक्तिगत बैठक होगी

गौरतलब है कि ग्लासगो में वैश्विक शिखर सम्मेलन के लिए स्काटिश इवेंट कैंपस (एसईसी) में होने जा रहे जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र के रूपरेखा समझौते (यूएनएफसीसीसी) के लिए पक्षकारों के 26वें शिखर सम्मेलन (COP-26) में वैश्विक नेताओं के सम्मेलन (डब्ल्यूएलएस) में पीएम मोदी समेत 120 विभिन्न सरकारों के प्रमुख और राष्ट्र प्रमुख शामिल होंगे।

भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर      |     कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |     एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374