Breaking
इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता

Bad Bank दूर करेगा SBI की मुश्किल, इस तरीके से वसूले जाएंगे अरबों रुपये

Whats App

देश का सबसे बड़ा बैंक SBI अपने NPA को लेकर तंग है। वह 10 अरब रुपये के रिटेल लोन की वसूली के लिए Bad Bank के पास गया है। Bad Bank अब उसके NPA की वसूली की कार्रवाई शुरू करेगा।

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक SBI 10 बिलियन रुपये के बीमारू रिटेल लोन को निकालने (Offloading pools of non-performing retail loans) की तैयारी कर रहा है। यह आमतौर पर बड़े कॉर्पोरेट कर्जों के लिए इस्‍तेमाल की जाने वाली रणनीति है। एसबीआई के पास दिसंबर अंत में 1,200 अरब रुपये की सकल गैर-निष्पादित संपत्ति (Gross Non Performing Assets) थी, जो इसकी Loan Book का 4.5% है, जिसमें से रिटेल लोन का हिसाब 619 अरब रुपये से अधिक है।

परिसंपत्ति पुनर्निर्माण कंपनियों (Asset reconstruction companies, ARC) को खुदरा कर्ज का एक छोटा पोर्टफोलियो बेचने से बाजार की टेस्टिंग करने और मांग की गहराई का आकलन करने में मदद मिलेगी। एसबीआई के प्रबंध निदेशक स्वामीनाथन जानकीरमन ने बुधवार को रॉयटर्स को बताया कि हम असुरक्षित खुदरा कर्जों (Unsecured Retail Loans) के पूल और कुछ खुदरा लघु और मध्यम उद्यमों के पोर्टफोलियो का मूल्यांकन करने जा रहे हैं, जो इस समय ARC या विशेष स्थिति वाले फंडों में थोड़ा बढ़ा हुआ Stress देख रहे हैं।

Whats App

उनके मुताबिक यह अनिवार्य रूप से ऐसे छोटे कर्जों की वसूली में लगे हमारे स्‍टाफ को मुक्त करने में भी मदद करेगा, जिनका इस्‍तेमाल बड़े कॉरपोरेट कर्जों की वसूली के लिए किया जा सकता है और जहां बेहतर वसूली की संभावना मौजूद है। SBI को भी उम्मीद है कि ARC, जो बड़े कॉरपोरेट NPA को हल करने में काम कर रहा है, गुरुवार से 500 अरब रुपये से अधिक के Bad Loan के लिए प्रस्ताव देना शुरू कर देगा। जिन दिशानिर्देशों के तहत बैड बैंक को लाइसेंस दिया गया था, उसके 31 मार्च तक कामकाज शुरू करने की उम्मीद है। उन्‍होंने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि एआरसी से NPA Loans के लिए बाध्यकारी प्रस्ताव कुल देय रकम के 10-40 फीसद के बीच होने की संभावना है, जो आमतौर पर ARC बिक्री के जरिए हमें मिलता है।

इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत     |     देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374