Breaking
कैंसर पीड़ितों के लिए विग बनवा कर मुफ्त में बांटेंगे; 50 कर्मियों ने की मदद की पहल भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर  कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल

*महिला विकास निगम में नौकरी के नाम पर फर्जीवाड़ा

Whats App

रिपोर्ट – अनमोल कुमार .

पटना। महिला एवं बाल विकास निगम में फर्जी ज्वॉइनिंग लेटर के माध्यम से नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी किए जाने का मामला शुक्रवार को प्रकाश में आया है। इस फर्जीवाड़े का खुलासा तब हुआ, जब गया और नवादा के रहने वाले एक लडक़ी और एक लडक़ा फर्जी ज्वाइनिंग लेटर लेकर अपना योगदान देने निगम पहुंचे। फर्जी पत्र में निगम का पुराना पता अंकित था। निगम के पदाधिकारियों ने मामले की जांच की, तो पाया कि पत्र फर्जी है। मामले में संज्ञान लेते हुए महिला एवं बाल विकास निगम के परियोजना निदेशक द्वारा सचिवालय थाने से जांचोपरांत विधिसम्मत करवाई करने को कहा गया है।

इस बारे में बताते हुए महिला एवं बाल विकास निगम के परियोजना निदेशक ने कहा कि शुक्रवार को दो लोग नियुक्ति पत्र के माध्यम से अपना योगदान देने आये थे। नियुक्ति पत्र जाली थे। निगम के द्वारा न तो इस प्रकार के किसी पद पर नियुक्ति के लिए विज्ञापन प्रकाशित किया गया है, न ही निगम में कोई ऐसी बहाली हुई है। यह एक अत्यंत ही संगीन मामला है, जिसके द्वारा महिला एवं बाल विकास निगम की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है।

Whats App

ऐसा प्रतीत होता है कि कोई रैकेट इस तरह का कार्य कर रहा है। संभवत: कुछ अज्ञात व्यक्ति, निगम में नियुक्ति के नाम पर लोगों से पैसे ठग रहे हैं और धोखघड़ी कर रहे हैं। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि इस प्रकार के किसी भी व्यक्ति एवं संस्था के दावे से दूर रहें। निगम में किसी भी पद के नियुक्ति की एक निर्धारित प्रक्रिया है। इसके बारे में अख़बारों में सूचना जाती है या महिला एवं बाल विकास निगम की वेबसाइट पर प्रकशित किया जाता है।

सात दिन पहले भी एक महिला और एक व्यक्ति एक संस्था का ऑफर लेटर लेकर निगम में योगदान देने पहुंचे थे। उन्होंने दावा किया था कि उक्त संस्था ने उन्हें, पैसे लेकर महिला एवं बाल विकास निगम में कंप्यूटर ऑपरेटर के पद पर प्रतिनियुक्त किया है।

कैंसर पीड़ितों के लिए विग बनवा कर मुफ्त में बांटेंगे; 50 कर्मियों ने की मदद की पहल     |     भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर      |     कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374