Breaking
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास। एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजू... एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़क... पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार अनिल देशमुख को ED ने मेडिकल जांच के लिए भेजा

Whats App

मुंबई। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी द्वारा गिरफ्तार किए गए महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) को आज विशेष पीएमएलए अदालत में पेश किया जाएगा। इससे पहले उन्‍हें मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है। देशमुख 6 नवंबर तक ईडी की हिरासत में है। ईडी (Enforcement Directorate) देशमुख के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले (Money Laundering Case) की जांच कर रही है। इस मामले में सीबीआइ ने अप्रैल 2021 में तत्कालीन मंत्री पर भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी का आरोप लगने के बाद प्राथमिकी दर्ज की थी।

jagran

महाराष्ट्र के पूर्व गृह मंत्री अनिल देशमुख (71) को बीते सोमवार देर रात 12 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ करने के बाद गिरफ्तार किया था। देशमुख ने इस मामले में ईडी की ओर जारी किए गए कई समन के बावजूद वह वहां पेश नहीं हुए थे। लेकिन बांबे हाई कोर्ट द्वारा बीते सप्‍ताह उन्हें रद करने से मना करने के बाद, वह सोमवार को एजेंसी के सामने हाजिर हुए। यहां की एक अदालत ने उन्‍हें 6 नवंबर तक ईडी की हिरासत में भेज दिया

Whats App

अदालत को ईडी से मिली जानकारी के अनुसार अनिल देशमुख मनी लांड्रिंग के अपराध में शामिल था। रिमांड नोट में केंद्रीय एजेंसी ने राकांपा पर 100 करोड़ रुपये के संग्रह का आरोप लगाया है।अदालत को ईडी ने बताया इस मामले में जांच के लिए अनिल देशमुख को पूछताछ के लिए हिरासत में लेना जरूरी है। दोषियों को सजा दिलाने के लिए लेन-देन की पूरी छानबीन करना जरूरी है।

गौरतलब है कि 21 अप्रैल 2021 को राकांपा नेता के खिलाफ आधिकारिक पद के दुरुपयोग के आरोप और भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआइ ने एफआइआर दर्ज की थी। इस मामले में अनिल देशमुख और उनके सहयोगियों के खिलाफ जांच जारी है। हालांकि पहले अनिल देशमुख ने इन आरोपों का खंडन किया था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया     |     गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास।     |     एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल     |     अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी     |     वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत     |     ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी     |     एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का     |     पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर     |     कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी     |     सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374