Breaking
महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री  भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित   निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022 बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान

नीतीश और आरसीपी से मिले शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा, जानिए क्‍या हैं इसके संकेत

Whats App

पटना। Bihar Politics: राजद के दिवंगत नेता मो शहाबुद्दीन (Md. Shahabuddin) के  स्वजन अब जदयू (JDU) के साथ नए रिश्ते की शुरुआत कर रहे हैं। पहली बार इस परिवार ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के अलावा जदयू के कई बड़े नेताओं को शुभ आयोजन में शामिल होने का न्योता दिया है। मो शहाबुद्दीन के पुत्र ओसामा (Osama Shahab) खुद न्योता बांट रहे है। उनकी इस पहल को राजनीतिक नजरिए से भी देखा जा रहा है। इस महीने की 15 तारीख को शहाबुद्दीन की बेटी डॉ हेरा सहाब की शादी है। सिवान में शादी होगी। पुत्र ओसामा शादी का न्योता बांट रहे हैं। शुक्रवार को उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को न्योता दिया। शादी में आने का आग्रह किया। नीतीश कुमार के शासनकाल में ओसामा सम्भवतः पहली बार मुख्यमंत्री आवास में आए थे। राजद के शासन में मो शहाबुद्दीन बेरोक टोक इस आवास पर आते थे

आरसीपी के गांव गए भी गए ओसामा 

केंद्रीय मंत्री और जदयू के वरिष्ठ नेता आरसीपी दीपावली और छठ के अवसर पर अपने गांव में हैं। उनका गांव मालती बिगहा नालन्दा जिला में है। शनिवार की सुबह ओसामा मालती बिगहा गए। आरसीपी से आग्रह किया कि बहन की शादी में जरूर आएं। आरसीपी ने समारोह में शामिल होने का भरोसा दिया। ओसामा-आरसीपी सिंह के बीच मुलाकात के दौरान मौजूद रहे जदयू के नेता अंजनी कुमार ने दोनों के फोटो को अपने फेसबुक पर पोस्ट किया है। हालांकि, अंजनी ने इस मुलाकात में किसी तरह की राजनीतिक बातचीत से इंकार किया।

Whats App

पिछले महीने हुई ओसामा की शादी

ओसामा की शादी पिछले महीने हुई थी। उसमें जदयू के बड़े नेता शामिल नहीं हुए थे। विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव सहित राजद के बडे नेता शामिल हुए थे। ओसामा ने अपनी शादी में आने के लिए मुख्यमंत्री को मिल कर न्योता नहीं दिया था। इस लिहाज से बहन की शादी में न्योता देने को राजनीतिक नजरिए से भी देखा जा रहा है। हाल के दिनों में शहाबुद्दीन के परिवार से राजद की दूरी बढ़ी है। परिवार की अपेक्षा थी कि राजद हेना शहाब को राज्यसभा में भेज दे। राजद ने लोजपा से आए मो अशफाक करीम को राज्यसभा में भेज दिया। हेना के दावे की अनदेखी की गई।

महू-नसीराबाद हाइवे पर जानलेवा गड्डे, ठेकेदार बोला- भूमिपूजन के बाद ही काम शुरू करेंगे     |     टेस्ट सीरीज में मोहम्मद शमी के स्थान पर इन खिलाड़ियों को मिल सकता है मौका     |     गुजरात की ऐतिहासिक जीत पीएम मोदी की लोकप्रियता के कारण : केंद्रीय रक्षा मंत्री      |     भोपाल में 2500 स्वयंसेवक एक साथ शारीरिक प्रदर्शन करेंगे     |     सीएम योगी देंगे 387.59 करोड़ की सौगात     |     श्रीमद् भागवत कथा के समापन पर भंडारा आयोजित       |     निराशा भरा रहा है टीम इंडिया का साल 2022     |     बैंक ऑफ महाराष्ट्र में निकली बंपर वैकेंसी, 45 साल तक की उम्मीदवार कर सकेंगे आवेदन     |     जहां पिता की हुई नियुक्ति, उसी यूनिट में तैनात हुए थे बिपिन रावत, जानें उनके शौर्य की गाथा     |     अब आंगनबाड़ी में मिलेगा अक्षरज्ञान     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374