Breaking
बांधी 75 फुट की हरी-भरी राखी, बहनें बोली - पेड़ हमारे हरे-भरे भैया भालू नें कई लोगों को किया घायल घर बैठे ही लोगों को मिला 12 लाख स्मार्ट कार्ड आधारित पंजीयन प्रमाण-पत्र तथा ड्राइविंग लायसेंस मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामुदायिक वन संसाधन अधिकार जागरूकता अभियान का किया शुभारंभ मुख्यालय सहित विभिन्न नगरों में निकाली रैली; विद्यार्थी, शिक्षकों एवं पुलिस कर्मी रहे शामिल नीतीश आठवीं बार बने सीएम अपर कलेक्टर ने जारी किया आदेश, हितग्राही को नहीं दे रहे थे योजना का लाभ सीहोर में जिला संस्कार मंच ने ग्रामीणों को 100 से अधिक तिरंगे निशुल्क बांटे महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश Skoda Enyaq iV की शुरू हुई टेस्टिंग

छत्तीसगढ़ के जुड़वा भाईयों ने पिता से प्रताड़ित होकर की थी आत्महत्या! video ने किया बड़ा खुलासा

Whats App

बलौदाबाजार: विश्व विख्यात शिवनाथ और शिवराम की मौत ने एक नया मोड़ ले लिया है। इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो में दोनों जुड़वा भाई अपने पिता राजकुमार साहू पर प्रताड़ना का आरोप लगा रहे हैं। अब इनकी मौत को लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे हैं कि आखिर मौत के तुरंत बाद बाद दोनों भाईयों का पोस्टमार्टम क्यों नहीं कराया गया। इसके साथ ही दोनों भाई वीडियो में लवन चौकी पुलिस पर फरियाद नहीं सुनने का आरोप लगा रहे हैं। ऐसे में लवन चौकी पुलिस पर भी सवाल उठ रहे है। क्योंकि पोस्टमार्टम के लिए जब मीडियाकर्मियों ने लगातार पुलिस के आला अधिकारियों से बात की तब कहीं जाकर शिवनाथ और शिवराम का आनन-फानन में पोस्टमार्डम करा दिया गया था जिससे शिवराम और शिवनाथ की मौत ने एक नया मोड़ ले लिया है। जांच के बाद ही साफ हो पाएगा कि आखिर इनके मौत का कारण क्या है।

आपको बता दें कि हफ्ते भर पहले चर्चित जुड़वा बच्चे शिवनाथ और शिवराम की मौत हो गई थी। परिजनों का कहना था कि इनकी मौत बुखार आ जाने के कारण हुई है। आधी रात अचानक दोनों की तबीयत बिगड़ने के कारण इनकी मौत हो गई। लेकिन अब जो वीडियो सामने आया है उसने सारी की सारी कहानी पलट कर रख दी है।

गौरतलब है कि शिवनाथ और शिवराम जुड़वा बच्चों को देखने के लिए देश विदेश से लोग आते थे। ये दोनों एशिया के एकमात्र दुर्लभ तरीके के जुड़वा बच्चे थे।  दोनों शरीर से जुड़े हुए थे। दोनों के 2 सिर, 4 हाथ और 2 पैर थे। दोनों ईश्वर की अदभुद कृति थे। इनका जन्म सन 2001 में छतीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले के कसडोल विधानसभा के खैन्दा गांव में हुआ था। इनके जन्म के समय से ही दोनों ने क्षेत्र में खूब प्रसिद्धी बटोरी। दोनों कमर से जुड़े हुए बच्चे को लोग ईश्वर की अदभुद कृति मानकर पूजा अर्चना करते थे। दोनों को देखने के लिए देश-विदेश से लोग गांव पहुंचते थे। दोनों का जीवन अबतक सामान्य तरीके से बीता है।

Whats App

दोनों बच्चे साथ साथ सारा काम करते थे। साथ मे नहाने,खाने से लेकर एक दूसरे को सहयोग करते हुए बेहतर तरीके से अपना जीवन यापन कर रहे थे, लेकिन आखिरकार दोनों की मौत हो गई थी। शुरू से ही प्रशासन भी इनके सहयोग का केवल आश्वासन देते आया। लेकिन इनको आवश्यक सुविधा मुहैया करा पाने में भी प्रशासन ने उतना ध्यान नहीं दिया। जिले के एकमात्र दुर्लभ प्रकार के जुड़वा बच्चे होने के कारण इनका विशेष लालन-पोषण होता रहता, तो आज इनकी स्थिति कुछ ठीक सी रहती

ग्रामीणों का कहना है कि दोनों बच्चे गांव के गौरव थे। दोनों की किलकारियों से गांव हमेशा गूंजता रहता था। दोनों शरारती होने के साथ मिलनसार भी थे। पहले सायकल से पूरे गांव का चक्कर लगाया करते थे और कुछ समय से दोनों स्कूटी में घुमा करते थे। दोनों एक दूसरे से झगड़ते भी थे और उतना ही प्रेम किया करते थे। दोनों से जब पूछा जाता था कि क्या आप अलग होना चाहते है तो दोनों कहते थे कि हम एक साथ ही जिंदगी जिएंगे।

दोनों बच्चे सोशल मीडिया पर भी खूब प्रसिद्ध थे। अनेकों प्रतिष्ठित चैनलों में इनकी जीवन की कहानी को लोगो ने खूब सराहा है। दोनों कुछ समय से नशे के आदि हो गए थे इसलिए भी इनका स्वास्थ्य खराब हुआ करता था और आज आखिरकार अस्वस्थ होने के कारण इन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। इन्हें गांव में ही मुखाग्नि दी गई। पूरा गांव शोक में डूब सा गया है।

बांधी 75 फुट की हरी-भरी राखी, बहनें बोली – पेड़ हमारे हरे-भरे भैया     |     भालू नें कई लोगों को किया घायल     |     घर बैठे ही लोगों को मिला 12 लाख स्मार्ट कार्ड आधारित पंजीयन प्रमाण-पत्र तथा ड्राइविंग लायसेंस     |     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सामुदायिक वन संसाधन अधिकार जागरूकता अभियान का किया शुभारंभ     |     मुख्यालय सहित विभिन्न नगरों में निकाली रैली; विद्यार्थी, शिक्षकों एवं पुलिस कर्मी रहे शामिल     |     नीतीश आठवीं बार बने सीएम     |     अपर कलेक्टर ने जारी किया आदेश, हितग्राही को नहीं दे रहे थे योजना का लाभ     |     सीहोर में जिला संस्कार मंच ने ग्रामीणों को 100 से अधिक तिरंगे निशुल्क बांटे     |     महाराष्ट्र के कई इलाकों में भारी बारिश     |     Skoda Enyaq iV की शुरू हुई टेस्टिंग     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374