Breaking
राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक...तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग! भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन... सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगल... EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका! हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल

एम्स भोपाल में एक हजार लीटर क्षमता का आक्सीजन जनरेशन प्लांट शुरू

Whats App
भोपाल। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) भोपाल में एक हजार लीटर प्रति मिनट की क्षमता वाला आक्सीजन जनरेशन प्लांट रविवार से शुरू हो गया है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, एम्स के प्रेसीडेंट डा. वायके गुप्ता की मौजूदगी प्लांट का शुभारंभ किया गया। इस दौरान एम्स के निदेशक डा. सरमन सिंह और अधीक्षक डा. मनीषा श्रीवास्तव भी मौजूद थीं। कोल इंडिया के सहयोग से यह प्लांट लगाया गया है। इससे एक साथ करीब 100 मरीजों की आक्सीजन की जरूरत एक समय में पूरी का जा सकेगी। हालांकि, एम्स में पहले से ही तरल आक्सीजन के भंडारण की पर्याप्त व्यवस्था है। यहां तरल आक्सीजन की आपूर्ति के लिए अनुबंध भी है।
शुभारंभ के दौरान चिकित्सा शिक्षा मंत्री सारंग ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में मध्य प्रदेश ही नहीं, पूरे देश ने आक्सीजन का संकट देखा है। अब सभी जगह वातावरण की आक्सीजन से मेडिकल आक्सीजन बनाने के लिए प्लांट लगाए जा रहे हैं। मध्य प्रदेश में 110 से ज्यादा प्लांट शुरू हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश आक्सीजन उत्पादन के मामले में आत्मनिर्भर हो चुका है। यह प्लांट लगने के बाद एम्स में भी आक्सीजन की कमी नहीं आएगी। बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान एम्स ने भी बिस्तर बढ़ाने से मना कर दिया था। इसकी वजह यह थी आक्सीजन की जरूरत के मुताबिक आपूर्ति नहीं हो पा रही थी।
Whats App
भोपाल में यहां शुरू हो चुके हैं प्लांट

एम्स के अलावा भोपाल में 10 आक्सीजन जनरेशन प्लांट लगाए जाने हैं। इनमें जेपी अस्पताल, कोलार, सिविल अस्पताल बैरागढ़, पीएचसी नजीराबाद के प्लांट शुरू हो गए हैं। हमीदिया और काटजू अस्पताल का प्लांट अभी शुरू होना है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट     |     मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक…तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग!     |     भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी     |     भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का फूंका पुतला     |     सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगलवार को होगा तय     |     EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका!     |     हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत     |     MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी     |     इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात     |     रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374