Breaking
शिक्षा व्‍यवस्‍था पर कल शिमला में जनता से संवाद करेंगे मनीष सिसोदिया सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दलित महिला के हाथों बेर खाए थे,उसी गांव में रोकी दलित की बारात खंडवा में बोहरा मस्जिद के पास हाकिमी टेडर्स दूकान में लगी भीषण आग महंगे होते कर्ज के बीच क्‍या दूसरे बैंक में लोन ट्रांसफर कराने से मिलेगा फायदा, क्‍या कहते हैं एक्‍स... बुद्ध पूर्णिमा पर लुंबिनी पहुंचे पीएम मोदी बाजार की अच्छी शुरुआत, सेंसेक्स 200 अंक ऊपर, निफ्टी 15800 के पार IRCTC दे रहा वैष्णों देवी, श्रीनगर समेत कई खूबसूरत जगह घूमने का मौका, 8 दिन का है ट्रिप, चेक करें डि... बॉलीवुड एक्टर इमरान खान पत्नी अवंतिका मलिक से लेंगे तलाक रोहित शेट्‌टी की वेब सीरीज की शूटिंग के दौरान घायल हुए सिद्धार्थ मल्होत्रा केरल में जोरदार प्री-मॉनसून बारिश उत्तर भारत में भी जल्द मिलेगी गर्मी से राहत

कर्ज से बचने के लिए काराकाट के युवक ने रचा खुद के अपहरण स्‍वांग, स्‍वजनों से मांग रहा था फिरौती

Whats App

काराकाट (सासाराम)। काराकाट थाना क्षेत्र के जयश्री निवासी एक युवक को अपने अपहरण का स्वांग रचना महंगा पड़ गया। घर वालों की सूचना पर खोजबीन के दौरान स्थानीय थाने की पुलिस ने गुरुवार को अपहरण का नाटक रचने वाले बिट्टू कुमार को बक्सर से बरामद कर पूछताछ के बाद इसका घटना का भंडाफोड़ किया है। जिसे पुलिस ने स्वजन समेत पुलिस को अनावश्यक परेशान करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार युवक बिट्टू कुमार जयश्री निवासी सत्येंद्र सिंह का पुत्र बताया जा रहा है।

थानाध्यक्ष अनिल प्रसाद ने बताया कि बिट्टू गत मंगलवार को घर से पैसा की निकासी करने के लिए बिक्रमगंज बैंक गया था देर शाम तक उसके घर नहीं लौटने पर चिंतित स्वजनों ने इसकी खोजबीन शुरू की। लोग अभी खोजबीन कर ही रहे थे कि उसके मोबाइल से घर के दूसरे नंबर पर उसका फोन आया। फोन पर बिट्टू ने स्वजनों को बताया कि उसका अपहरण कर लिया गया है उसने खुद को अपहर्ताओं द्वारा एक अंधेरी कोठरी में डाल रखने की बात कही। दूसरे दिन सुबह अपने पिता सत्येंद्र सिंह से बात करते हुए दो लाख रुपये की मांग की। कहा कि फिरौती की यह रकम नहीं देने पर लोग किडनी बेच देंगे, और फिर फोन काट दिया।

थानाध्यक्ष ने बताया कि मोबाइल को ट्रेस कर उसे बक्सर से सकुशल बरामद कर लिया गया। पूछताछ के दौरान गोलमटोल बात कर कुछ देर तक पुलिस को भ्रमित करता रहा, परंतु सख्‍ती दिखाने पर सच उजागर कर दिया। जिसे पुलिस ने स्वजन समेत पुलिस को अनावश्यक परेशान करने के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया। गौरतलब है कि इस तरह का मजाक कई बार जानलेवा साबित हो जाता है। बात 2005 की है। पटना के नागेश्‍वर कॉलोनी में रहने वाले एक लड़के ने दोस्‍तों के साथ मिलकर खुद के अपहरण का स्‍वांग रचा था। जब उसके दोस्‍तों को लगा कि पुलिस की सरगर्मी बढ़ गई है और वे पकड़े जाएंगे तो उन्‍होंने लड़के को मार डाला।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

शिक्षा व्‍यवस्‍था पर कल शिमला में जनता से संवाद करेंगे मनीष सिसोदिया     |     सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दलित महिला के हाथों बेर खाए थे,उसी गांव में रोकी दलित की बारात     |     खंडवा में बोहरा मस्जिद के पास हाकिमी टेडर्स दूकान में लगी भीषण आग     |     महंगे होते कर्ज के बीच क्‍या दूसरे बैंक में लोन ट्रांसफर कराने से मिलेगा फायदा, क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट     |     बुद्ध पूर्णिमा पर लुंबिनी पहुंचे पीएम मोदी     |     बाजार की अच्छी शुरुआत, सेंसेक्स 200 अंक ऊपर, निफ्टी 15800 के पार     |     IRCTC दे रहा वैष्णों देवी, श्रीनगर समेत कई खूबसूरत जगह घूमने का मौका, 8 दिन का है ट्रिप, चेक करें डिटेल्स     |     बॉलीवुड एक्टर इमरान खान पत्नी अवंतिका मलिक से लेंगे तलाक     |     रोहित शेट्‌टी की वेब सीरीज की शूटिंग के दौरान घायल हुए सिद्धार्थ मल्होत्रा     |     केरल में जोरदार प्री-मॉनसून बारिश उत्तर भारत में भी जल्द मिलेगी गर्मी से राहत     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374