Breaking
भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर  कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार

संसदीय समिति ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानें फिर शुरू करने का सुझाव दिया, बढ़ते किराये को लेकर भी हुई बातचीत

Whats App

नई दिल्ली। संसदीय समिति के कुछ सदस्यों ने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय हवाई यात्रा के ऊंचे किराये पर चिंता जताई और नागर विमानन मंत्रालय को अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों को फिर से शुरू करने पर विचार करने का सुझाव भी दिया। सूत्रों ने कहा, परिवहन, पर्यटन और संस्कृति पर संसद की स्थायी समिति के सदस्यों ने अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के बढ़ते किराये को लेकर मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों से पूछताछ भी की। गौरतलब है कि महामारी के चलते अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ानों के निलंबन को 30 नवंबर तक बढ़ा दिया गया है। हालांकि, वंदे भारत मिशन और द्विपक्षीय एयर बबल व्यवस्था के तहत विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ानें मई, 2020 से संचालित की जा रही हैं। नागर विमानन सचिव राजीव बंसल, नागर विमानन महानिदेशक और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) के अध्यक्ष ने संसदीय समिति के सामने अपना पक्ष रखा।

सदस्यों ने बैठक में टिकट की ऊंची कीमत का मुद्दा उठाया और कहा कि सरकार का इस पर नियंत्रण ना होना एक चिंता का विषय है। मंत्रालय के अधिकारियों ने समिति को बताया कि विमानन ईंधन में वृद्धि सहित कई वजहों से टिकट के दाम बढ़े हैं। सदस्यों ने दो घंटे से कम की घरेलू उड़ानों पर भी चिंता जताई। उनका कहना था कि इसमें यात्रियों के लिए भोजन की कोई सुविधा नहीं होती है, यह भेदभाव है।

सदस्यों का कहना था कि क्या कोई ऐसा आश्वासन है कि उन यात्रियों को महामारी नहीं पकड़ेगी, जो लोग 2 घंटे या उससे अधिक समय की फ्लाइट में खाना ना खाएं या उनको कोविड-19 हो जाएगा जो 2 घंटे से कम की यात्रा कर रहे हैं और उनकी यात्रा में खाना सप्लाई किया गया हो

Whats App

बता दें पिछले महीने देश की प्रमुख एविएशन कंपनी Vistara ने अपने यात्रियों को ताजा शाकाहारी खाना परोसने की सुविधा को फिर से शुरू कर दी थी। Vistara ने अपनी घरेलू उड़ानों की सभी श्रेणियों-एकोनामी, प्रीमियम और बिजनेस के लिए ‘इन-फ्लाइट भोजन’ के नयी सुविधा की घोषणा की थी। कोविड-19 से संबंधित दिशा-निर्देशों के कारण कंपनी पिछले वर्ष मई के बाद से पहले से तैयार यानी पैक किये हुए भोजन को ही घरेलू यात्रियों को परोस रही थी।

भारत में टारगेंट किलिंग का काम विदेशों में बैठे आंतकियों के इशारे पर      |     कर्नाटक उच्च न्यायालय ने पीएफआई प्रतिबंध पर सवाल उठाने वाली याचिका खारिज की     |     आदिवासियों के विरोध का फायदा BJP को, कांग्रेस की सावित्री का नाम सुनकर इमोशनल हो रहे वोटर     |     मल्लिकार्जुन खड़गे ने जिस तरह PM के लिए अपशब्द बोले, कांग्रेस नेतृत्व के जमात सोच- राजनाथ सिंह     |     इस तरह करें चुकंदर का इस्तेमाल,चमका सकता है स्किन     |     Hyundai Ioniq 5 (Electric Car) का इंतजार हुआ खत्म, 20 दिसंबर से शुरू होगी बुकिंग     |     अमित शाह का AAP पर जोरदार हमला     |     सिविल अस्पताल में चल रहा इलाज, CCS यूनिवर्सिटी से पोस्ट ग्रेजुएट; सीने पर घाव, कीड़े पड़े थे     |     अखिलेश को छोटे नेताजी के नाम से जाना जाए : शिवपाल     |     एम्स जैसे साइबर हमले से बचाव के लिए एसजीपीजीआईएमएस तैयार     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374