Breaking
मनी एक्सचेंज मार्केट में हुआ जोरदार धमाका, विस्फोटों से दहला अफगानिस्तान सौंपा ज्ञापन, अकाली दल में इकबाल झूंदा की सिफारिशों को लागू करने की मांग अंबिकापुर में तेज रफ्तार ट्रक ने  स्कूटी सवार युवक को मारी टक्कर, मौके पर ही दर्दनाक मौत झारखंड में हाथी के हमले में डब्ल्यूआईआई का सदस्य घायल डायबिटीज ने मुश्किल कर दिया है जीना? तो इन मसालों से करे कंट्रोल भारत बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा iPhone मेकर... ब्राइडल लुक में चार चांद लगा देंगे ये ट्रेंडी लिपस्टिक कलर्स लालू प्रसाद यादव  का आज होगा सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट दान देने में भी Gautam Adani अव्वल मंत्री चौबे के बंगले के बाहर खड़ीं होकर बोलीं- हक की नौकरी भीख में दे दो

अफगानिस्तान के विदेश मंत्री का दावा, 75 फीसदी अफगान लड़कियां वापल लौटीं स्कूल

Whats App

इस्लामाबाद। अफगानिस्तान में तालिबान शासन ने दावा किया है कि देश में 75 प्रतिशत लड़कियों ने फिर से स्कूल जाना शुरू कर दिया है। डान की रिपोर्ट के मुताबिक, अफगानिस्तान के कार्यवाहक विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी ने शुक्रवार को कहा कि अफगानिस्तान में 75 फीसदी लड़कियों ने स्कूलों में अपनी पढ़ाई फिर से शुरू कर दी है।

अगस्त में तालिबान ने अफगानिस्तान पर नियंत्रण करने के बाद स्कूलों को बंद कर दिया था और हजारों छात्राओं को उनके घरों में कैद कर दिया था, जिसकी अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने आलोचना की थी। तालिबान द्वारा अफगानिस्तान का अधिग्रहण युद्धग्रस्त देश की महिलाओं और लड़कियों के लिए उनके अधिकारों की रक्षा के आश्वासन के बावजूद कठिन रहा है।

इससे पहले, तालिबान के नेतृत्व में अफगानिस्तान के शिक्षा मंत्रालय ने सभी माध्यमिक विद्यालयों को फिर से शुरू करने का निर्देश दिया था। हालांकि, निर्देश में केवल पुरुष छात्रों को ही स्कूल जाने की अनुमति दी गई थी, जिसमें लड़कियों की वापसी की तारीख का कोई जिक्र नहीं था।

Whats App

तालिबान ने अपने पिछले शासन (1996-2001) की नीतियों को नहीं दोहराने का आश्वासन देते हुए, कई वादों के साथ सितंबर में ए

अल जजीरा के अनुसार, अफगानिस्तान के आंतरिक मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने संकेत दिया था कि माध्यमिक विद्यालयों में लड़कियों और उनकी महिला शिक्षकों की जल्द ही वापसी होगी। इससे पहले, संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने सभी लड़कियों और युवतियों के लिए स्कूल और विश्वविद्यालय खोलने का आह्वान किया था।

अफगानिस्तान में यूनिसेफ के प्रतिनिधि सलाम अल-जनाबी ने पहले कहा था कि एजेंसी यह देखने के लिए इंतजार कर रही है कि क्या तालिबान देश में लड़कियों को शिक्षा की अनुमति देगा क्योंकि अफगानिस्तान के अधिकांश प्रांतों में लड़कियों के लिए हाई स्कूल बंद हैं।

मनी एक्सचेंज मार्केट में हुआ जोरदार धमाका, विस्फोटों से दहला अफगानिस्तान     |     सौंपा ज्ञापन, अकाली दल में इकबाल झूंदा की सिफारिशों को लागू करने की मांग     |     अंबिकापुर में तेज रफ्तार ट्रक ने  स्कूटी सवार युवक को मारी टक्कर, मौके पर ही दर्दनाक मौत     |     झारखंड में हाथी के हमले में डब्ल्यूआईआई का सदस्य घायल     |     डायबिटीज ने मुश्किल कर दिया है जीना? तो इन मसालों से करे कंट्रोल     |     भारत बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा iPhone मेकर…     |     ब्राइडल लुक में चार चांद लगा देंगे ये ट्रेंडी लिपस्टिक कलर्स     |     लालू प्रसाद यादव  का आज होगा सिंगापुर में किडनी ट्रांसप्लांट     |     दान देने में भी Gautam Adani अव्वल     |     मंत्री चौबे के बंगले के बाहर खड़ीं होकर बोलीं- हक की नौकरी भीख में दे दो     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374