Breaking
इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता

तेजस्‍वी यादव और तेज प्रताप हत्‍या के मामले में आरोपित हैं, जदयू ने लालू के दोनों बेटों को याद दिलाई ये बात

Whats App

पटना। जदयू के प्रदेश उपाध्यक्ष व विधान पार्षद संजय सिंह ने शनिवार को कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव इन दिनों एक विचित्र किस्म के रोग से ग्रस्त हो गए हैं। सच्चाई चाहे कुछ भी हो, लेकिन उसे वह अपने हिसाब से लोग के समक्ष रख रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष का यह रोग उन पर इस तरह से हावी हो गया है कि अगर देश के अन्य हिस्सों में भी कोई घटना होती है तो वह उसका आरोप जदयू के किसी नेता या फिर कार्यकर्ता के सिर मढ़ देते हैं। संजय ने कहा कि तेजस्वी यादव के पास कोई मुद्दा ही नहीं बचा है। अगर यह कहा जाता है कि कौवा कान लेकर उड़ गया तो वह कौवा के पीछे दौड़ जाते हैं।

पूर्णिया के राजद नेता उठाया मामला

संजय सिंह ने कहा कि पूर्णिया में हुई हत्या में मंत्री लेसी सिंह का नाम न तो प्राथमिकी में और न इस तरह की कोई बात है, पर तेजस्वी यादव भोंंपू लेकर चिल्ला रहे। वह शायद यह भूल गए हैं कि पूर्णिया के राजद नेता शक्ति मल्लिक ने जिंदा रहते ही यह आरोप लगाया था कि तेजस्वी यादव से उनका खतरा है। फिर उनकी हत्या हो गई। प्राथमिकी में तेजस्वी व तेजप्रताप यादव दोनों के नाम हैं।

Whats App

तेजस्‍वी ने बोला था सरकार पर हमला

आपको बता दें कि पूर्व जिला पार्षद रिंटू सिंह की हत्‍या के मामले में तेजस्‍वी यादव ने बिहार पुलिस पर जदयू कार्यकर्ता की तरह काम करने का आरोप लगाया था। उन्‍होंने कहा कि था कि रिंटू ने नौ दिनों पहले ही खुद की जान पर खतरा होने की बात कही थी, जदयू की मंत्री लेसी सिंह के भाई का नाम लिया था। बावजूद पुलिस ने कुछ नहीं किया और उनकी हत्‍या हो गई। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा था कि बिहार में पुलिस ही नागरिकों और निर्वाचित प्रतिनिधियों की हत्‍या करवाती है।

इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत     |     देवेंद्र फडणवीस का डिमोशन या अनुशासन का संदेश? महाराष्ट्र के फैसले से भ्रम में भाजपा कार्यकर्ता     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374