Breaking
सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत

कंगना के बयान से नाराज कांग्रेसियों ने पद्मश्री वापस लेने राज्‍यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

Whats App
रायपुर। विवादित बयान पर बालीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत का पद्मश्री वापस लेने के लिए महिला कांग्रेस ने छत्‍तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया उईके के नाम राजभवन में ज्ञापन दिया। बता दें कि पिछले दिनों देश की आजादी को लेकर बालीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत द्वारा दिए गए विवादास्पद बयान की देशभर में जमकर आलोचना हो रही है। छत्तीसगढ़ में कांग्रेसी कंगना को दिए गए पद्मश्री पुरस्कार को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।
इसी मांग को लेकर मंगलवार को महिला कांग्रेस का प्रतिनिधि मंडल छत्तीसगढ़ की राज्यपाल अनुसुइया उईके से मिलने पहुंचा और कंगना के बयान को देश और स्‍वतंत्रता सेनानियों का अपमान बताते हुए कंगना का पद्मश्री पुरस्कार वापस लेने की मांग की और राज्यपाल के नाम राजभवन में ज्ञापन सौंपा।
Whats App
बता दें कि कंगना रनौत ने एक टेलीविजन चैनल को साक्षात्कार के दौरान भारत देश को मिली आजादी पर आपत्तिजनक बयान दिया था, जिसका खासकर कांग्रेस पार्टी आलोचना कर रही है। छत्तीसगढ़ के कांग्रेस नेता भी लगातार कंगना के बयान की आलोचना कर रहे हैं। मंगलवार को महिला कांग्रेस रायपुर शहर अध्यक्ष आशा चौहान के नेतृत्त्व में महिला कांग्रेस के 10-12 पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं का प्रतिनिधि मंडल राजभवन पहुंचा।
राज्यपाल से तो मुलाकात नहीं हो पाई, लेकिन राजभवन के एक अधिकारी ने महिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल का ज्ञापन लिया। आशा चौहान ने बताया कि ज्ञापन के माध्यम से राज्यपाल तक यह बात पहुंचाई गई है कि कंगना ने अपने बयान से देश की गरिमा और शालीनता का अपमान किया है, इसलिए कंगना पद्मश्री पुरस्कार की हकदार नहीं हैं, उनसे पद्मश्री पुरस्कार वापस लिया जाना चाहिए।

सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे     |     इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     आर्थिक मोर्चे पर बेहाल पाकिस्तान में अब भारी आयात शुल्क लगाने से दवाओं की किल्लत     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374