Breaking
लिवरपूल ने 16 साल बाद जीता एफए कप गुना पुलिसकर्मी हत्याकांड: शिकारियों के एनकाउंटर पर उठ रहे सवाल, मुठभेड़ के खिलाफ CGM कोर्ट में लगी ... रायबरेली में गंगा स्नान करने आई महिला की गला घोंटकर हत्या आंखें फोड़ शव को आम के पेड़ से लटकाया कैलिफोर्निया के चर्च में फायरिंग से 1 की मौत ज्ञानवापी मस्जिद पर कोर्ट ने आदेश में शिवलिंग मिलने का जिक्र किया, CRPF करेगी सुरक्षा आपके शहर में आज बैंक खुले हैं या नहीं, जल्दी से कर लें चेक, वरना अटक जाएंगे काम जानिए क्यों Adani Cement के बड़े अधिग्रहण के बाद सीमेंट सेक्टर के शेयरों में आई जबरदस्त तेजी? – Offi... सोना खरीदने का है प्लान तो इस समय 50,000 के नीचे चल रहा भाव, जल्दी कर चेक करें रेट्स ईएसआइसी अस्पताल में ओपीडी सेवाएं कल से होगी शुरू

नाइजीरिया में नवीनतम हमले में बंदूकधारियों ने 15 लोगों को मार डाला

Whats App

लागोस। नाइजीरिया के उत्तर-पश्चिम में बंदूकधारियों ने कम से कम 15 लोगों की हत्या कर दी है। इस बारे में सोकोतो राज्य के गवर्नर ने कहा क‍ि अफ्रीका के सबसे अधिक आबादी वाले देश के एक सर्पिल में हिंसा की नवीनतम घटना हुई है।

बंदूकधारियों ने सोकोतो राज्य में एक समुदाय के लोगों पर धावा बोल दिया। रविवार रात से सोमवार सुबह तक घरों पर छापा मारा गया। गर्वनर अमीनू तंबूवाल ने एक बयान में कहा क‍ि कुछ द‍िनों पहले नाइजीरिया के अशांत उत्तर में दूरदराज के समुदायों में लगभग 30 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी

उन्होंने कहा कि पड़ोसी नाइजर की सीमा के निकट एक कस्बे इलेला और राज्य की राजधानी से लगभग 97 किलोमीटर दूर इलेला में कम से कम 13 लोग मारे गए। उन्होंने कहा कि राज्य की राजधानी से लगभग 76 किलोमीटर पूर्व में गोरोन्यो में दो अन्य लोग मारे गए। नाइजीरिया के उत्तर-पश्चिम और मध्य भागों में हुए हिंसक हमलों में इस साल सैकड़ों लोग मारे गए हैं।

Whats App

अधिकांश प्रभावित समुदाय दूरदराज के इलाकों में हैं, जहां पर्याप्त सुरक्षा या संपर्क के साधन नहीं है। जैसे कि गोरोन्यो समुदाय जहां एक महीने पहले एक भीड़ भरे बाजार में हमलावरों द्वारा की गई गोलीबारी में 40 से अधिक लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अधिकारियों और सुरक्षा विश्लेषकों के अनुसार, बंदूकधारी ज्यादातर फुलानी जातीय समूह के युवा पुरुष हैं, जो परंपरागत रूप से खानाबदोश मवेशी चराने वाले के रूप में काम करते थे। पानी और चराई की भूमि तक अपनी पहुंच को लेकर हौसा कृषक समुदायों के साथ दशकों से चले आ रहे संघर्ष में फंस गए हैं। यहां हमलों ने जातीय और धार्मिक आयाम ले ल‍िया है। अस्थिर राज्यों में अक्सर चरवाहों और स्थानीय समुदायों के बीच झड़पों की सूचना आती रहती है।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

लिवरपूल ने 16 साल बाद जीता एफए कप     |     गुना पुलिसकर्मी हत्याकांड: शिकारियों के एनकाउंटर पर उठ रहे सवाल, मुठभेड़ के खिलाफ CGM कोर्ट में लगी याचिका, कौन देगा इन अनसुलझे सवालों के जवाब ?     |     रायबरेली में गंगा स्नान करने आई महिला की गला घोंटकर हत्या     |     आंखें फोड़ शव को आम के पेड़ से लटकाया     |     कैलिफोर्निया के चर्च में फायरिंग से 1 की मौत     |     ज्ञानवापी मस्जिद पर कोर्ट ने आदेश में शिवलिंग मिलने का जिक्र किया, CRPF करेगी सुरक्षा     |     आपके शहर में आज बैंक खुले हैं या नहीं, जल्दी से कर लें चेक, वरना अटक जाएंगे काम     |     जानिए क्यों Adani Cement के बड़े अधिग्रहण के बाद सीमेंट सेक्टर के शेयरों में आई जबरदस्त तेजी? – Officenewz Hindi     |     सोना खरीदने का है प्लान तो इस समय 50,000 के नीचे चल रहा भाव, जल्दी कर चेक करें रेट्स     |     ईएसआइसी अस्पताल में ओपीडी सेवाएं कल से होगी शुरू     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374