Breaking
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास। एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजू... एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़क... पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया

डेटा सूचना है और भविष्य में इतिहास तय करेगा: पीएम मोदी

Whats App

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि डेटा सूचना है और यह भविष्य में इतिहास तय करेगा। भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (CAG) के ऑडिट दिवस कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा कि अतीत में सूचनाओं को कहानियों के रूप में प्रसारित किया जाता था। पीएम मोदी ने कहा, ‘इतिहास कहानियों के माध्यम से लिखा गया था। लेकिन 21 वीं सदी में डेटा सूचना है और आने वाले समय में हमारे इतिहास को डेटा का उपयोग करके देखा और समझा जाएगा। भविष्य में डेटा इतिहास को निर्धारित करेगा।’

उन्होंने संपर्क रहित सीमा शुल्क, ऑटोमेटिक रीन्यूवल्स, फेसलेस एसेसमेंट और सर्विस डिलीवरी के लिए ऑनलाइन आवेदन जैसे सुधारों का जिक्र किया, इससे अनावश्यक सरकारी हस्तक्षेप समाप्त हो गया है। उन्होंने कहा कि जब सिस्टम में पारदर्शिता लाई जाती है, तो परिणाम दिखाई देते हैं। भारत स्टार्टअप के लिए दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा पारिस्थितिकी तंत्र है और पहले से ही 50 यूनिकॉर्न हैं। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय लेखा परीक्षक, सीएजी द्वारा मांगे गए दस्तावेज, डेटा और फाइलें सरकारी विभागों द्वारा दी जानी चाहिए।

पीएम ने कहा कि मजबूत, वैज्ञानिक ऑडिट प्रणाली को मजबूत और पारदर्शी बनाएंगे, उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने राजकोषीय घाटे और राज्य के खर्च पर सीएजी की चिंताओं को सही ढंग से समझा है।

Whats App

फील्ड ऑडिट शुरू करने से पहले सरकारी विभागों के साथ प्रारंभिक निष्कर्षों को साझा करने के सीएजी के नए अभ्यास की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि दोनों का संयोजन बेहतर परिणाम देगा। अपने संबोधन में उन्‍होंने कई मुद्दों को छुआ जिसमें एक नोटबंदी भी था। उन्‍होंने कहा कि सरकार ने मुद्रीकरण जैसे बड़े फैसले लिए। इसकी वजह से अर्थव्‍यवस्‍था को तेज गति मिली। इसका पूरी दुनिया ने स्‍वागत भी किया। आडिट को लेकर पहले की चिंताओं को जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि एक समय था जब आडिट को बड़े डर और चिंता की नजर से देखा जाता था। कैग बनाम सरकार की एक सामान्‍य सोच बन गई थी। कुछ को लगता था कि कैग को हर जगह गलत ही दिखाई देता है। लेकिन आज इस सोच में बदलाव आ गया है। आज इसको वैल्‍यू एडिशन के रूप में देखा जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया     |     गोपालगंज। प्रतिनिधियों के आपसी विवाद से रुकता है पंचायत का विकास।     |     एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल     |     अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी     |     वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत     |     ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी     |     एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का     |     पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर     |     कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी     |     सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374