Breaking
लिवरपूल ने 16 साल बाद जीता एफए कप गुना पुलिसकर्मी हत्याकांड: शिकारियों के एनकाउंटर पर उठ रहे सवाल, मुठभेड़ के खिलाफ CGM कोर्ट में लगी ... रायबरेली में गंगा स्नान करने आई महिला की गला घोंटकर हत्या आंखें फोड़ शव को आम के पेड़ से लटकाया कैलिफोर्निया के चर्च में फायरिंग से 1 की मौत ज्ञानवापी मस्जिद पर कोर्ट ने आदेश में शिवलिंग मिलने का जिक्र किया, CRPF करेगी सुरक्षा आपके शहर में आज बैंक खुले हैं या नहीं, जल्दी से कर लें चेक, वरना अटक जाएंगे काम जानिए क्यों Adani Cement के बड़े अधिग्रहण के बाद सीमेंट सेक्टर के शेयरों में आई जबरदस्त तेजी? – Offi... सोना खरीदने का है प्लान तो इस समय 50,000 के नीचे चल रहा भाव, जल्दी कर चेक करें रेट्स ईएसआइसी अस्पताल में ओपीडी सेवाएं कल से होगी शुरू

इंदौर की हवा साफ, भोपाल व ग्वालियर में तेजी से बढ़ रहा प्रदूषण

Whats App
भोपाल। प्रदेश के महानगरों में इंदौर को छोड़कर भोपाल, ग्वालियर और जबलपुर में तेजी से वायु प्रदूषण बढ़ रहा है। भोपाल, ग्वालियर व जबलपुर जैसे महानगरों में वायु गुणवत्ता सूचकांक 300 के आंकड़े को पार कर गया है, जो कि वायु प्रदूषण की गंभीर स्थिति को बताता है। इस तरह का प्रदूषण कुछ दिनों पूर्व तक दिल्ली में था। इन तीनों शहरों की तुलना में इंदौर में हवा की सेहत काफी ठीक है। यहां सूचकांक ज्यादातर समय 90 से 150 तक है। सूचकांक की आदर्श स्थिति 50 या उससे नीचे होनी चाहिए। वहीं अनूपपुर, दमोह, उज्जैन, देवास समेत अन्य शहरों की हवा काफी हद तक साफ है। जिन शहरों में तेजी से वायु प्रदूषण बढ़ रहा है, वहां खराब सड़कें मुख्य रूप से जिम्मेदार हैं। सड़कों से धूल उड़ने और वातावरण में फैलने के कारण हवा की सेहत बिगड़ रही है। काफी हद तक वाहनों का धुआं और नमी भी प्रदूषण के लिए जिम्मेदार है। इन तीनों ही महानगरों में लंबे समय तक हवा प्रदूषित रही तो आम नागरिकों की सेहत पर विपरित असर पड़ना तय है।
वायु प्रदूषण की ये वजहें
Whats App
खराब सड़कें – भोपाल, ग्वालियर और जबलपुर में सड़कें खराब हैं। इनमें से वाहनों के चलने के साथ ही वातावरण में धूल फैलती है। यह धूल प्रदूषण को बढ़ावा देती है।
धुआं – पुराने वाहनों से जहरीला धुआं निकलता है। इन तीनों ही शहरों में हजारों की संख्या में पुराने व कंडम वाहन दौड़ रहे हैं, जो अधिक धुआं छोड़ते हैं।
ठंड – सर्दी के दिनों में वायु प्रदूषण के लिए जिम्मेदार हानिकारक कण आर्द्रता पाकर भारी हो जाते हैं और वातावरण में निचली स्तह पर ही रहते हैं। इसके कारण ये सभी तरह के कण मिलकर वायु की गुणवत्ता को प्रभावित कर देते हैं। गर्मी के दिनों में भी ये वातावरण में
मप्र के महानगरों में वायु प्रदूषण की स्थिति

दिनांक—————ग्वालियर—————भोपाल————इंदौर————जबलपुर

07 नवंबर —————242—————268—————177—————196

08 नवंबर—————382—————253—————207—————234

09 नवंबर—————496—————304—————224—————260

10 नवंबर —————347—————314—————205—————320

11 नवंबर ————351—————257—————163—————309

12 नवंबर————— 321—————159—————129—————311

13 नवंबर—————353—————200—————127—————315

14 नवंबर—————304—————314—————221—————258

15 नवंबर—————335—————329—————296—————283

16 नवंबर—————315—————309—————250—————264

नोट: यह आंकड़े प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के ईएनवीअलर्ट एप से लिए गए हैं।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

लिवरपूल ने 16 साल बाद जीता एफए कप     |     गुना पुलिसकर्मी हत्याकांड: शिकारियों के एनकाउंटर पर उठ रहे सवाल, मुठभेड़ के खिलाफ CGM कोर्ट में लगी याचिका, कौन देगा इन अनसुलझे सवालों के जवाब ?     |     रायबरेली में गंगा स्नान करने आई महिला की गला घोंटकर हत्या     |     आंखें फोड़ शव को आम के पेड़ से लटकाया     |     कैलिफोर्निया के चर्च में फायरिंग से 1 की मौत     |     ज्ञानवापी मस्जिद पर कोर्ट ने आदेश में शिवलिंग मिलने का जिक्र किया, CRPF करेगी सुरक्षा     |     आपके शहर में आज बैंक खुले हैं या नहीं, जल्दी से कर लें चेक, वरना अटक जाएंगे काम     |     जानिए क्यों Adani Cement के बड़े अधिग्रहण के बाद सीमेंट सेक्टर के शेयरों में आई जबरदस्त तेजी? – Officenewz Hindi     |     सोना खरीदने का है प्लान तो इस समय 50,000 के नीचे चल रहा भाव, जल्दी कर चेक करें रेट्स     |     ईएसआइसी अस्पताल में ओपीडी सेवाएं कल से होगी शुरू     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374