Breaking
राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक...तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग! भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन... सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगल... EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका! हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल

वसीम रिजवी की किताब पर मचा हंगामा, ओवैसी की शिकायत पर FIR दर्ज; पैगंबर पर गलत टिप्पणी का आरोप

Whats App

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी के खिलाफ हैदराबाद में एफआइआर दर्ज हो गई है। बुधवार को एआइएमआइएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने रिजवी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी। इस दौरान उन्होंने पुलिस कमीश्नर से मुलाकात कर रिजवी के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की थी।

Whats App

ओवैसी ने बताया कि उन्होंने हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर से मुलाकात की और वसीम रिजवी की किताब को लेकर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज करने की मांग की। उन्होंने कहा, हम हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर से मिले। यूपी शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने एक किताब लिखी जिसमें पैगंबर मोहम्मद पर आपत्तिजनक बयान दिए गए हैं। हमने अनुरोध किया कि रिजवी के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। आयुक्त ने हमें एक आपराधिक मामला दर्ज करने का आश्वासन दिया। हमें उम्मीद है कि उन्हें जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा।

एआइएमआइएम प्रमुख ने हैदराबाद के पुलिस आयुक्त अंजनी कुमार को पत्र सौंपा था। ओवैसी ने एक बयान में कहा कि आपका ध्यान हाल ही में उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी द्वारा लिखित पुस्तक की ओर ले जाना चाहता हूं। हिंदी में लिखी गई इस पुस्तक में पैगंबर मोहम्मद (PBUH) को लेकर आपत्तfजनक बातें लिखी गई हैं। इसके साथ ही पैगंबर, इस्लाम और इसके अनुयायियों के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का उपयोग किया गया है।

पत्र में आगे कहा गया है कि पुस्तक की सामग्री और आपत्तिजनक बयानों का इस्तेमाल पैगंबर मोहम्मद (PBUH) को मानने वाले और इस्लामिक सिद्धांतों का पालन करने वालों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के उद्देश्य से किया गया है। इसे लेकर मैं अनुरोध करता हूं कि रिजवी और उनके सहयोगियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए, और भारतीय दंड संहिता की धारा 153ए, 153बी, 295ए, 504 और 505(1)(सी) के तहत कार्रवाई की जाए।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

राजधानी में बड़ी लूट की वारदात से हडकंप, कारोबारी से मारपीट कर 50 लाख की लूट     |     मूर्तियां और कलश से लेकर शिवलिंग तक…तीन दिन का सर्वे पूरा वजुखाने में 12 फीट 8 इंच का शिवलिंग!     |     भाजपा में चला मंथन का दौर, अलग निगम का अलग घोषणापत्र होगा जारी     |     भारत माता की तस्वीर को जमीन पर रखकर अपमानित करने पर भड़के NSUI कार्यकर्ता, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का फूंका पुतला     |     सुप्रीम कोर्ट में शिवराज सरकार प्रस्तुत कर चुकी है, पिछड़ा वर्ग कल्याण आयोग की वार्डवार रिपोर्ट, मंगलवार को होगा तय     |     EPF अकाउंट से Withdrawal पर हो सकता है 15 लाख रुपए से ज्यादा का नुकसान, रिटायरमेंट पर लगेगा झटका!     |     हार्ट अटैक, पर्वतीय बीमारी से अब तक 39 तीर्थयात्रियों की मौत     |     MP में अब नीलगाय का शिकार: पुलिस ने 2 शिकारियों को किया गिरफ्तार, बाकी आरोपियों की तलाश जारी     |     इमरान खान को गिरफ्तार किया तो पाकिस्तान में होंगे श्रीलंका जैसे हालात     |     रेलवे ने अचानक इन 20 ट्रेनों को क‍िया रद्द, ऐसे यात्र‍ियों को होगी मुश्‍क‍िल     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374