Breaking
डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल... सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम

पेसा नियमों पर पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने नागरिकों से मांगे सुझाव, लिखित या ई-मेल पर 15 दिनों के भीतर दे सकते हैं सुझाव

Whats App

रायपुर। छत्तीसगढ़ में पंचायत उपबंध (अनुसूचित क्षेत्रों पर विस्तार) अधिनियम, 1996 (पेसा अधिनियम) के प्रविधानों के क्रियान्वयन के लिए पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के तैयार नियमों पर नागरिकों से सुझाव मांगा गया है।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव के निर्देश पर छत्तीसगढ़ पंचायत उपबंध (अनुसूचित क्षेत्रों पर विस्तार) नियम, 2021 (पेसा नियम प्रारूप प्राविधिक) को विभागीय वेबसाइट prd.cg.gov.in पर अपलोड किया गया है। प्रस्तावित नियमों से संबंधित सुझाव विभाग को लिखित रूप में या ई-मेल के माध्यम से 15 दिनों के भीतर भेजा जा सकता है। नागरिक अपने सुझाव संचालक, पंचायत संचालनालय, विकास भवन, भू-तल, नॉर्थ ब्लाक, सेक्टर-19, नवा रायपुर, अटल नगर, छत्तीसगढ़ को लिखित रूप में या विभाग की ई-मेल आईडी dp.cg@nic.in पर प्रेषित कर सकते हैं।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव छत्तीसगढ़ में ‘पेसा’ कानून को अमलीजामा पहनाने नियम बनाने के लिए पिछले डेढ़ वर्ष से आदिवासी विकासखंडों के लोगों, आदिवासी समाज के प्रतिनिधियों, निर्वाचित जनप्रतिनिधियों, जनजातियों के कल्याण, पंचायतीराज सशक्तीकरण और वनाधिकारों के लिए काम करने वाले संगठनों से लगातार चर्चा कर सुझाव प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने विगत 17 नवंबर को प्रदेश के सांसदों और विधायकों से भी विभाग द्वारा तैयार पेसा के प्रस्तावित नियमों पर रायशुमारी की है।

Whats App

आदिवासी नेता लगातार कर रहे थे मांग

आदिवासी बहुल बस्तर सहित छत्तीसगढ़ के अन्य जिलों के आदिवासी समाज के लोग पेसा कानून लागू करने की मांग लगातार कर रहे हैं। इसको लेकर बस्तर के जुड़े जिलों में कई बार आदिवासी समाज आंदोलन कर चुके है। अब जाकर सरकार ने उनकी मांगोें पर क्रियान्वयन कर रही है।

सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे     |     इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल।     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374