Breaking
राजधानी में कल ये सड़कें रहेंगी ब्लॉक, कई दिग्गजों समेत सड़क पर उतरेंगे कार्यकर्ता, पब्लिक की बढ़ सक... गुजरात का पहला क्वालीफायर खेलना तय कंप्यूटर शोरूम में लगी भीषण आग पूर्व विधायक अजय राय गैंगेस्टर केस में गवाही देने गाजीपुर पहुंचे भोपाल की साइबर क्राइम टीम फर्जी मेल की जानकारी जुटाने तमिलनाडु रवाना SCO की बैठक में भारत के अलावा पाकिस्‍तान चीन और रूस भी ले रहे हिस्‍सा SBI, PNB समेत सभी सरकारी बैंक के लिए अच्छी खबर, धोखधड़ी वाले पैसों को लेकर RBI ने दी बड़ी जानकारी तपती गर्मी से जल्द मिलेगी राहत, IMD ने जारी किया बारिश का अलर्ट; जानें अपने यहां का हाल महंगा होगा हवाई सफर, 5 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ हवाई ईंधन की कीमतें पहुंची रिकॉर्ड लेवल पर पुलिस ने घेराबंदी कर 480 किलो गांजे से भरा ट्रक किया जब्त

दिल्ली में कंस्ट्रक्शन मजदूरों को केजरीवाल सरकार ने दी बड़ी राहत, मिलेंगे 5-5 हजार रुपये

Whats App

नई दिल्ली। दिल्ली में कंस्ट्रक्शन मजदूरों को केजरीवाल सरकार ने बड़ी राहत दी है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को बताया कि दिल्ली में प्रदूषण कम करने के लिए सरकार अपने स्तर पर कई कदम उठा रही है। कंस्ट्रक्शन के काम बंद होने पर सभी मजदूरों के खातें में 5-5 हजार रुपये दिए जा रहे हैं। कई निर्माण स्थल ऐसे हैं जिनका रजिस्ट्रेशन नहीं है तो वहां कैंप लगा कर रजिस्ट्रेशन किया जाएगा।

केजरीवाल ने कहा कि कंस्ट्रक्शन का काम बंद होने से मजदूरों की रोजी-रोटी पर संकट पैदा हो गया था। सरकार उनकी परेशानी को देखते हुए कंस्ट्रक्शन मजदूरों के खाते में पांच-पांच हजार रुपये भेजने का फैसला किया है। हम श्रमिकों को उनकी न्यूनतम मजदूरी के अनुसार, उनके नुकसान का मुआवजा भी प्रदान करेंगे। दरअसल राजधानी दिल्ली में प्रदूषण के कारण निर्माण कार्यों पर पाबंदी लगा दी गई थी। इसके अलावा सरकार ने प्रदूषण पर लगाम लगाने के लिए कई अहम फैसले लिए थे।

बता दें कि पांच-पांच हजार रुपये उन कंस्ट्रक्शन मजदूरों को मिलेंगे जिन्होंने पहले से ही सरकार के श्रम विभाग के कार्यालय में रजिस्टर्ड कराया है। जिन्होंने पंजीकरण नही कराया है सरकार उनको मौका देगी। इसके लिए कैंप लगाकर मजदूरों का रजिस्ट्रेशन कराया जाएगा। सरकार के इस फैसले से हजारों निर्माण मजदूरों को राहत मिलेगी।

Whats App

कोरोना काल में भी पंजीकृत निर्माण मजदूरों को दी गई थी आर्थिक सहायता

इससे पहले भी दिल्ली सरकार ने निर्माण मजदूरों को राहत दी थी। कोरोना संकट में जब लाकडाउन हुआ था तब भी सरकार ने पंजीकृत निर्माण मजदूरों को पांच-पांच हजार रुपये आर्थिक मदद दी थी। निर्माण श्रमिकों के पंजीकरण के लिए सरकार ने तब भी मेगा रजिस्ट्रेशन ड्राइव चलाया था। दिल्ली में करीब दो लाख पंजीकृत निर्माण मजदूूर हैं। श्रम मंत्रालय ने मजदूरों के आनलाइन पंजीकरण के लिए एक वेबसाइट भी लांच किया था। इसके माध्यम से भी बड़ी संख्या में मजदूरों ने अपना पंजीकरण कराया था।

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.

राजधानी में कल ये सड़कें रहेंगी ब्लॉक, कई दिग्गजों समेत सड़क पर उतरेंगे कार्यकर्ता, पब्लिक की बढ़ सकती है मुसीबतें     |     गुजरात का पहला क्वालीफायर खेलना तय     |     कंप्यूटर शोरूम में लगी भीषण आग     |     पूर्व विधायक अजय राय गैंगेस्टर केस में गवाही देने गाजीपुर पहुंचे     |     भोपाल की साइबर क्राइम टीम फर्जी मेल की जानकारी जुटाने तमिलनाडु रवाना     |     SCO की बैठक में भारत के अलावा पाकिस्‍तान चीन और रूस भी ले रहे हिस्‍सा     |     SBI, PNB समेत सभी सरकारी बैंक के लिए अच्छी खबर, धोखधड़ी वाले पैसों को लेकर RBI ने दी बड़ी जानकारी     |     तपती गर्मी से जल्द मिलेगी राहत, IMD ने जारी किया बारिश का अलर्ट; जानें अपने यहां का हाल     |     महंगा होगा हवाई सफर, 5 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ हवाई ईंधन की कीमतें पहुंची रिकॉर्ड लेवल पर     |     पुलिस ने घेराबंदी कर 480 किलो गांजे से भरा ट्रक किया जब्त     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374