Breaking
डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल... सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं? अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम

गोरखपुर में बोले बिहार के मंत्री मुकेश सहनी- निषाद जाति को एससी में किया जाए शामिल

Whats App

पटना। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए शनिवार को विकासशील इंसान पार्टी (वीआइपी) के अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा कि यूपी सरकार निषाद समाज के साथ वादाखिलाफी कर रही है। राज्य में निषाद जातियों के साथ सामाजिक एवं राजनीतिक अन्याय हो रहा है। बिहार के पशुपालन मंत्री सहनी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के वादे पर विश्वास नहीं। निषाद आरक्षण के राजपत्र व शासनादेश के बाद यूपी सरकार का साथ दिया जाएगा। उन्होंने मांग की कि निषाद जाति को एससी में शामिल किया जाए।

चंपा देवी पार्क में संबोधित करते हुए मुकेश सहनी ने कहा कि पश्चिम बंगाल, दिल्ली, उड़ीसा में निषाद जातियों को अनूसूचित जाति का आरक्षण मिलता है तो उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड के निषाद, मल्लाह, केवट, बिंद, गोडिया आदि को क्यों नहीं। उत्तर प्रदेश में 16 प्रतिशत से अधिक आबादी होने के बाद भी निषाद समाज के साथ दोयम दर्जे का बर्ताव किया जा रहा है। उन्होंने मझवार, तुरैहा, गोंड, बेल्दार, खैरहा, खोरोट की तरह निषाद मछुआरा जातियों के आरक्षण व परंपरागत पुश्तैनी पेशों की बहाली की मांग की।

सहनी ने कहा कि निषाद समाज को राजपाट दिलाने का झूठा सपना दिखाकर एक नेता अपने परिवार के हित के लिए जुटे हैं। भोले-भाले निषाद समाज की भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। सहनी ने कहा कि निषाद समाज को अपने वोट की ताकत को पहचानना होगा। उन्होंने कहा कि वीआइपी का मुख्य उद्देश्य निषाद समाज की जातियों को अनुसूचित जाति का आरक्षण व उनका अधिकार दिलाना है। सहनी ने कहा कि बिहार में हमारे चार विधायकों का महत्व 74 एमएलए से कम नहीं है।

Whats App

पैसा नहीं, आपका तन-मन से सहयोग चाहिए

उन्होंने कहा कि हमें चंदा व निषादराज की आरती का पैसा नहीं, आपका तन-मन से सहयोग चाहिए। कार्यक्रम के दौरान कार्यकर्ताओं ने सहनी को चांदी का मुकुट भेंट किया। रैली को संबोधित करते हुए वीआइपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता देव ज्योति ने कहा कि मांगने से भीख मिल सकती है, लेकिन अधिकार नहीं। निषाद जाति को एक होकर अपने अधिकार के लिए लड़ना होगा। आने वाले समय में निषाद समाज के बिना उत्तर प्रदेश में सरकार नही बन पाएगी। रैली में राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष सहनी, पूर्वांचल के प्रदेश अध्यक्ष राजा राम बिंद, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बीरू सहनी यूपी चुनाव प्रभारी उमेश सहनी, युवा प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय के राष्ट्रीय अध्यक्ष संतोष सहनी सहित पार्टी के अन्य कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।

सिंधिया बोले-मुझे विश्वास है जनता हमारे साथ है और प्रचंड बहुमत से सारे प्रत्याशी जीतेंगे     |     इमिग्रेशन कंपनियों के दफ्तरों पर शुरू की छापामारी, चेक किए लाइसेंस     |     बिजली मंत्री ने बिजली और गबन संबंधी समस्याओं पर लिया एक्शन; 11 शिकायतें सुनी     |     हाईकोर्ट ने अंतरिम जमानत नहीं दी; वकील से पूछा- क्या वह भारत आएगा या नहीं?     |     अनिज विज को शिकायत देने के बाद दर्ज हुआ मामला, जांच में जुटी पुलिस     |     गांव जंडली की घटना; शराब के नशे में था सूरज, जांच में जुटी पुलिस     |     बोले- पीएम मोदी को 8 हजार करोड़ का जहाज, अग्निवीर को बर्फीले सियाचीन में सिर्फ 21 हजार वेतन     |     पत्थर की फैक्ट्री में दो महिलाएं काम कर रही थी, दूसरी फैक्ट्री की दीवार गिरी     |     तेल कंपनियों ने जारी किए पेट्रोल-डीजल के दाम     |     डेढ़ माह से हत्या के प्रयास मामले में फरार चल रहे तीन आरोपियों को भोरे पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल।     |    

पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9431277374